गुजरात: घरेलू झगड़े में शख्स के सिर पर सवार हुआ खून, पत्नी और बच्चों सहित चार की जान लेकर की खुद को लगाई आग

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

Rajkot News: बताया जा रहा है कि इमरान पठान ने इस घटना के बाद अपने दो बच्चों के साथ जल कर मरने की कोशिश की. गंभीर हालत में उन्हें हॉस्पिटल में दाखिल किया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 9:08 AM IST
  • Share this:
राजकोट. गुजरात के राजकोट में गृह क्लेश के चलते 12 घंटे में पांच लोगों की जान चली गई. शहर के रूखड़िया क्रॉसिंग इलाके में एक युवक ने शुक्रवार शाम अपनी पत्नी और उसके मामा की चाकू मार कर हत्या कर दी और सास को घायल कर दिया. इस घटना के बाद आरोपी ने खुद को और अपने दो बच्चों पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा ली थी. शनिवार सुबह आरोपी और दोनों बच्चों ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

पुलिस ने बताया कि घटना शहर के जंक्शन इलाके में रूखड़िया पाड़ा रेलवे क्रॉसिंग के पास शाम करीब 4:30 बजे हुई. शहर के थोराला इलाके में रहने वाले इमरान पठान ने महिला थाने में शिकायत करके घर लौट रही अपनी पत्नी नाजिया और उसकी मां फ़िरोज़ा को रास्ते में रोका और उन पर अंधाधुंध गोलियां बरसा दीं. जब नाजिया के भाई नाज़िर ने हस्तक्षेप किया, तो इमरान ने कथित रूप से उस पर भी चाकू से हमला किया. नाजिया और नाजिर की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि फिरोजा को पंडित दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल ले जाया गया.

हत्या के बाद बच्चों के साथ की आत्महत्या
बताया जा रहा है कि इमरान पठान ने इस घटना के बाद अपने दो बच्चों के साथ आग लगाकार खुदकुशी की कोशिश की. गंभीर हालत में उन्हें हॉस्पिटल में दाखिल किया गया, जहां दोनों ने आखिरकार दम तोड़ दिया. मृतकों में हत्यारे इमरान के साथ उसके 7 और आठ साल के दो बेटे भी शामिल हैं. इस प्रकार एक ही वारदात में पूरा परिवार तहस-नहस हो गया है.



पति-पत्नी के बीच था विवाद
बताया जा रहा है कि इमरान और उसकी पत्नी का विवाद था, जिस कारण उनके बीच कोर्ट में केस चल रहा था. बच्चों की कस्टडी को लेकर दोनों के बीच विवाद के बारे में राजकोट जोन-2 के डीसीपी मनोहर सिंह ने बताया कि इन दोनों के बीच कोर्ट में केस चल रहा था. लेकिन समाधान होने के कारण पत्नी, पति के पास चली आई थी. लेकिन समाधान के बाद भी इमरान अपनी पत्नी के साथ मारपीट करता रहता था. इसी सिलसिले में भावनगर रहने वाले नाजिया के मामा नाजिर पठान और मां फिराजा राजकोट आये थे. वे अपनी बेटी नाजिया को रिक्शा में बिठाकर साथ ले जा रहे थे, तभी पीछे से बाइक पर आकर इमरान ने उन्हें रास्ते में रोका और हमला कर दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज