Exclusive: ममता सरकार पर राजनाथ सिंह का प्रहार, कहा- बंगाल में गणतंत्र नहीं 'गन'तंत्र आ गया

हावड़ा के उलुबेरिया लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार जॉय बनर्जी मैदान में हैं. वे बंगला फिल्मों के स्टार रह चुके हैं.

अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: April 19, 2019, 12:40 PM IST
अमिताभ सिन्हा
अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: April 19, 2019, 12:40 PM IST
देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को पश्चिम बंगाल के चुनावी दौरे पर थे. इस दौरान उन्‍होंने हावड़ा, उत्‍तरी मालदा और दक्षिणी मालदा में तीन रैलियों को संबोधित किया. बीजेपी के यहां फोकस करने के बाद बंगाल में अब राजनीतिक लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है. पिछले साल हुए पंचायत चुनावों के बाद बीजेपी को लग गया था कि यहां वो सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस से सीधी टक्कर में हैं. कांग्रेस और लेफ्ट के यहां हाशिये पर चले जाने के बाद बीजेपी का हर नेता बंगाल में चुनावी लाभ की संभावना में डेरा डाले बैठा है.

गुरुवार को राजनाथ सिंह के चुनावी सफर में न्‍यूज18 इंडिया के पॉलिटिकल एडिटर अमिताभ सिन्‍हा भी उनके साथ शामिल रहे. राजनाथ सिंह की रैलियों के दौरान दिखा कि भाषा की दीवार कहीं भी आड़े नहीं आई. जिस तरह से गृह मंत्री को बंगाल की जनता का रिस्‍पांस मिल रहा था, उससे वे और ज्‍यादा उत्‍साहित दिखे.

हावड़ा के उलुबेरिया लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार जॉय बनर्जी मैदान में हैं. वे बंगला फिल्मों के स्टार रह चुके हैं. हालांकि विधानसभा चुनाव में उनकी हार हुई थी, लेकिन इस बार वे लोकसभा चुनाव में ताल ठोक रहे हैं.

इस बार लड़ाई जरा हट के है. बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है. इसलिए जॉय बाबू कह रहे हैं कि अरसे बाद यहां एक हिन्दू उम्मीदवार लड़ रहा है. वे मानते हैं कि इससे सीट पर लड़ाई कठिन है लेकिन ममता की पार्टी को हराया जा सकता है.

राजनाथ सिंह जानते हैं कि बंगाल में अच्छा किया तो कई सीटों के नुकसान की भरपाई हो सकती है. साथ ही बंगाल में बीजेपी की स्थिति पहले से काफी बेहतर हुई है. केंद्रीय गृह मंत्री के भाषण में पूरी कोशिश इसी पर रही कि लोगों और कार्यकर्ताओं का डर काम किया जाए. तभी तो वे कहते हैं कि बंगाल में गण तंत्र नही 'गन' तंत्र आ गया है. उन्‍होंने जनता से बिना डर के बीजेपी को वोट देने की अपील की.

सीएम ने किसानों की लिस्ट नहीं भेजी इसलिए उनके खाते में पैसे नहीं आए

राजनाथ ने किसानों से सीधा सवाल पूछ कि बंगाल के किसानों के खाते में 2000 रुपए नहीं आए क्‍योंकियहां की मुख्यमंत्री ने किसानों की लिस्ट नहीं भेजी. इसलिए किसानों को पैसे नहीं मिले. बंगाल में किसान क्रेडिट कार्ड तक नहीं दिया गया.

इसके बाद राजनाथ सिंह ने उत्तरी और दक्षिणी मालदा में पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार किया. दक्षिणी मालदा से श्रीरूपा मित्र चौधरी उम्मीदवार हैं. मंच पर बीजेपी के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गी और सांसद रूपा गांगुली भी मौजूद थी. राजनाथ ने कहा कि केंद्र ने राज्य में सुरक्षाबल भेजे हैं जिससे यहां शांतिपूर्ण मतदान हो सके.

राजनाथ ने आरोप लगाया कि यहां न मा, न मानुष और न ही यहां की माटी सुरक्षित है. अवैध घुसपैठियों को बीजेपी बाहर करेगी और जिनको नागरिकता देनी है उन्हें नागरिकता भी देंगे. राजनाथ ने कहा कि तृणमूल ने बांग्लादेश से प्रचार करने के लिए फिरदौस को बुलाया था. वो भी वापस कर दिए गए.

ये भी पढ़ें: Exclusive: हमें ऐसा चौकीदार चाहिए, जो देश के लिए काम करे- ममता बनर्जी

न्यूज़ 18 इंडिया के पॉलिटिकल एडिटर ने इस दौरान जब लोगों से बात की तो पता चला कि स्थानीय स्तर पर कार्यकर्ता अपनी अनदेखी से नाराज हैं. बीजेपी उम्मीदवार अपनी टीम लेकर घूम रहे हैं और वर्कर घर बैठे हैं. वैसे ये पूरी लोकसभा सीट पर हिन्दू वोटों को लेकर बीजेपी निश्चिंत है.

अब हम सफर के आखिरी पड़ाव यानी उत्तरी मालदा पहुंचे. राजनाथ सिंह ने कहा कि तृणमूल मान चुकी है कि चुनाव बाद वो जा रही है. बांग्लादेशी एक्टर फिरदौस अहमद का जिक्र करना भी राजनाथ नहीं भूले जो तृणमूल का प्रचार करते पाए गए थे. इस संसदीय क्षेत्र पर बांग्लादेशी घुसपैठियों का खास असर रहा है. ऐसे में उत्तरी और दक्षिणी मालदा में ध्रुवीकरण जबरदस्त हो रहा है.

लोगों का डर कम हुआ इसलिए बीजेपी के पक्ष में वो वोट देंगे 

रैलियों के बाद राजनाथ सिंह ने दावा किया कि लोगों का डर कम हुआ है इसलिए वो बीजेपी के पक्ष में वोट करने लोग आएंगे. ममता सरकार ने बीजेपी कार्यकर्ताओं और समर्थकों के खिलाफ काफी हिंसा की है. लेकिन राजनाथ सिंह का मानना है कि पिछले पंचायत चुनावों ने साबित कर दिया है कि लोगों का भरोसा बीजेपी के लिए बढ़ रहा है. राजनाथ सिंह ने न्यूज़18 से कहा कि बंगाल में बीजेपी कम से कम 24 से 25 लोकसभा सीटें जीतेगी.

ये भी पढ़ें: Exclusive: बंगाल में जीतेंगे 42 की 42 सीटें, विपक्ष तय करेगा प्रधानमंत्री : ममता बनर्जी

राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत के फ़ेडरल सिस्टम का ममता सरकार ने बहुत उल्लंघन किया है. जिसका बतौर गृह मंत्री उन्होंने संज्ञान भी लिया है. इसका नतीजा ममता बनर्जी को झेलना पड़ेगा.

बीते एक अप्रैल से अब तक राजनाथ सिंह ने देश भर के एक दर्जन से ज्यादा राज्यों में चुनावी सभाएं की हैं. अभी तक वो 42 से ज्यादा रैलियां कर चुके हैं. उनका मानना है कि इस बार भी लोगों में नरेंद्र मोदी के काम का अंडर करंट है जिसके चलते एक बार फिर अपने दम पर बीजेपी सरकार बनाएगी.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार