चीन से तनाव के बीच राजनाथ सिंह ने साउथ कोरिया के रक्षा मंत्री से फोन पर की बात

चीन से तनाव के बीच राजनाथ सिंह ने साउथ कोरिया के रक्षा मंत्री से फोन पर की बात
राजनाथ सिंह ने साउथ कोरिया के रक्षा मंत्री से फोन पर की बात (फाइल फोटो)

रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) ने कहा, ‘भारत और साउथ कोरिया के बीच रक्षा उद्योग और रक्षा प्रौद्योगिकी सहयोग के क्षेत्र में हुस समझौतों को आगे बढ़ाने पर भी सहमति बनी.’

  • Share this:
नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath singh) ने शुक्रवार को दक्षिण कोरिया (South Korea) के अपने समकक्ष जियोंग क्येओंग-दू से फोन पर बात की. राजनाथ सिंह ने बातचीत के दौरान सैन्य उपकरणों और महत्वपूर्ण प्रणालियों के संयुक्त उत्पादन की शुरूआत कर द्विपक्षीय रक्षा संबंधों को और मजबूत करने पर बल दिया. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. दक्षिण कोरिया विगत कई साल से भारत (India) को अस्त्रों और सैन्य उपकरणों का बड़ा आपूर्तिकर्ता रहा है. पिछले साल, दोनों देशों ने विभिन्न थल एवं नौसैन्य प्रणालियों के संयुक्त उत्पादन में सहयोग के लिए एक प्रारूप को अंतिम रूप दिया.

सरकार ने मई में रक्षा क्षेत्र में विदेशी कंपनियों को आकर्षित करने के लिए स्वत: स्वीकृत मार्ग के तहत 74 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) की अनुमति देकर रक्षा विनिर्माण में एफडीआई नियमों में छूट देने की घोषणा की थी. टेलीफोन पर यह वार्ता भारत और चीन के बीच सीमा मुद्दे पर उत्पन्न तनाव के बीच हुई है. तत्काल यह पता नहीं चल पाया है कि बातचीत के दौरान यह मुद्दा उठा या नहीं.

इन मुद्दों पर बनी सहमति



रक्षा मंत्रालय के एक बयान में कहा गया कि टेलीफोन पर हुई वार्ता के दौरान साझा सुरक्षा हितों से जुड़े क्षेत्रीय घटनाक्रमों पर भी विचारों का आदान-प्रदान हुआ. अधिकारियों ने बताया कि दोनों मंत्रियों ने विभिन्न द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पहलों को लेकर हुई प्रगति की समीक्षा की तथा सशस्त्र बलों के बीच रक्षा सहयोग को और मजबूत करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की. रक्षा मंत्रालय ने कहा, ‘भारत और कोरिया गणराज्य के बीच रक्षा उद्योग और रक्षा प्रौद्योगिकी सहयोग के क्षेत्र में हुस समझौतों को आगे बढ़ाने पर भी सहमति बनी.’
कोरोना के मुद्दे पर भी हुई चर्चा

अधिकारियों ने बताया कि दोनों पक्षों ने सैन्य उपकरणों और महत्वपूर्ण प्रणालियों के संयुक्त उत्पादन की शुरुआत करने के तौर-तरीकों पर भी चर्चा की. रक्षा मंत्रालय ने कहा कि मंत्रियों ने कोविड-19 से जुड़े मुद्दों पर भी चर्चा की और महामारी से उत्पन्न जटिल चुनौतियों से निपटने के लिए मिलकर काम करने पर सहमत हुए. इसने कहा, ‘राजनाथ सिंह ने जियोंग क्येओंग-दू को कोविड-19 से निपटने के अंतरराष्ट्रीय प्रयासों में भारत के योगदान की जानकारी दी और महामारी के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में पारस्परिक सहयोग के मुद्दों पर चर्चा की.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading