Home /News /nation /

मल्लिकार्जुन खड़गे बोले, राज्यसभा के 12 सांसदों का निलंबन लोकतंत्र का गला घोंटने जैसा; विपक्ष ने बुलाई अहम बैठक

मल्लिकार्जुन खड़गे बोले, राज्यसभा के 12 सांसदों का निलंबन लोकतंत्र का गला घोंटने जैसा; विपक्ष ने बुलाई अहम बैठक

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे. (फाइल फोटो)

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे. (फाइल फोटो)

Rajya Sabha 12 MP Suspend: राज्यसभा ने सोमवार को शुरू हुए शीतकालीन सत्र के पहले दिन ही 12 सांसदों को सत्र के शेष दिनों के लिए निलंबित कर दिया. इन सांसदों के खिलाफ यह कार्रवाई सदन के मानसून सत्र में अनुशासनहीनता के आरोप में की गई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. राज्यसभा के 12 सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों ने मंगलवार को उच्च सदन में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के कार्यालय (Mallikarjun Kharge office) में बैठक बुलाई है, जहां आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी. दरअसल, राज्यसभा ने सोमवार को शुरू हुए शीतकालीन सत्र (Winter Session) के पहले दिन ही 12 सांसदों को सत्र के शेष दिनों के लिए निलंबित कर दिया. इन सांसदों के खिलाफ यह कार्रवाई सदन के मानसून सत्र (Monsoon Session) में अनुशासनहीनता के आरोप में की गई है.

    निलंबित किये गए सांसदों में शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी और तृणमूल कांग्रेस की डोला सेन के अलावा एलाराम करीम (सीपीएम), कांग्रेस की फूलो देवी नेताम, छाया वर्मा, आर बोरा, राजमणि पटेल, सैयद नासिर हुसैन, अखिलेश प्रसाद सिंह, भाकपा के बिनॉय विश्वम, टीएमसी के शांता छेत्री और शिवसेना के अनिल देसाई शामिल हैं.

    ‘यह लोकतंत्र का गला घोंटने जैसा है’
    12 सांसदों के निलंबन पर राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “हम (विपक्षी दलों के नेता) भविष्य की कार्रवाई पर चर्चा करने के लिए कल बैठक कर रहे हैं. अगर दूसरों के लिए आवाज उठाने वालों की आवाज दबाई जाती है, तो यह लोकतंत्र का गला घोंटने जैसा है. हम इसकी निंदा करते हैं, सभी दल इसकी निंदा करते हैं.”

    ‘सांसदों में डर पैदा करने के लिए ऐसा किया गया’
    सांसदों के निलंबन को खड़गे ने लोकतंत्र विरोधी कदम बताया. उन्होंने कहा, “इस निरंकुश सरकार ने सांसदों में डर पैदा करने के लिए ऐसा किया है. 12 सांसदों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रस्ताव लाना पूरी तरह से अवैध, गलत और नियमों के खिलाफ है. मानसून सत्र में हुई इस घटना के लिए पिछले सत्र में में होनी चाहिए थी कार्रवाई.”

    राज्यसभा से जारी नोटिस में क्या कहा गया?
    राज्यसभा द्वारा जारी निलंबन सूचना (Suspension Notice) में कहा गया है कि सांसदों ने 11 अगस्त को मानसून सत्र के आखिरी दिन अपने हिंसक व्यवहार और सुरक्षाकर्मियों पर ‘जानबूझकर हमले’ कर अभूतपूर्व कदाचार कर सदन की गरिमा को ठेस पहुंचाई है.

    Tags: Mallikarjun kharge, Parliament Winter Session, Rajya sabha

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर