Home /News /nation /

Kisan Andolan: 26 जनवरी तक समाप्‍त होगा क‍िसान आंदोलन, राकेश ट‍िकैत ने कही ये बड़ी बात

Kisan Andolan: 26 जनवरी तक समाप्‍त होगा क‍िसान आंदोलन, राकेश ट‍िकैत ने कही ये बड़ी बात

द‍िल्‍ली के बार्डर और देश के अन्‍य राज्‍यों में आंदोलन कर रहे क‍िसान अभी इसको समाप्‍त करने के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं. (फाइल फोटो)

द‍िल्‍ली के बार्डर और देश के अन्‍य राज्‍यों में आंदोलन कर रहे क‍िसान अभी इसको समाप्‍त करने के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं. (फाइल फोटो)

Kisan Andolan: कृष‍ि कानूनों की वापसी की घोषणा के बाद भी अभी क‍िसान आंदोलन के 26 जनवरी से पहले समाप्‍त होने की उम्‍मीद नहीं है. क‍िसान नेता राकेश ट‍िकैत ने साफ कहा है क‍ि हमें लगता सरकार 26 जनवरी से पहले बात कर लेगी और सब कुछ निपट जाएगा. उन्‍होंने यह भी साफ क‍िया है क‍ि सरकार कभी नहीं चाहेगी कि किसान दिल्ली कूच करे. उन्‍होंने आंदोलन खत्‍म करने की क‍िसी तारीख का ज‍िक्र करते हुए यह स्‍पष्‍ट कर द‍िया है क‍ि 26 जनवरी से पहले आंदोलन को समाप्‍त क‍िया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) तीनों कृष‍ि कानूनों (Agricultural Law) को वापस करने की घोषणा कर चुके हैं. लेक‍िन इसके बाद भी अभी क‍िसान आंदोलन (Kisan Andolan) समाप्‍त होता नहीं द‍िख रहा है. द‍िल्‍ली के बार्डर और देश के अन्‍य राज्‍यों में आंदोलन कर रहे क‍िसान अभी इसको समाप्‍त करने के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं.

    क‍िसान नेता राकेश ट‍िकैत ने भी साफ और स्‍पष्‍ट कर द‍िया है क‍ि क‍िसान आंदोलन फ‍िलहाल समाप्‍त नहीं होगा. जब तक केंद्र सरकार (Central Government) के साथ बातचीत नहीं हो जाती तब तक यह आंदोलन समाप्‍त नहीं होगा.

    बताते चलें क‍ि कृष‍ि कानूनों की वापसी (Farm Laws Repeal) की घोषणा के बाद से ही क‍िसान आंदोलन (Kisan Andolan) को कब समाप्‍त क‍िया जाएगा, इसको लेकर सवाल उठने लगे थे. इसको लेकर जब से ही कयास लगाए जा रहे हैं. लेक‍िन अब इस मामले में पर क‍िसान नेता राकेश ट‍िकैत ने खुलकर इस मामले पर अपनी राय जाह‍िर की है.

    क‍िसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने बताया कि हमें नहीं पता कि सरकार बात कर रही है या नहीं कर रही है. सरकार जब हमसे बात करेगी तब हम बातचीत को आगे बढ़ाएंगे. उन्होंने कहा हमने केंद्र सरकार (Central Government) को भी पत्र लिख दिया है. यह पत्र भारत सरकार (Government of India) के नाम लिखा गया है. उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से पत्र का कोई जवाब अभी तक नहीं आया है. सरकार को बात मान लेनी चाहिए.

    ये भी पढ़ें: तीनों कृषि कानूनों की वापसी पर आज लगेगी अंतिम मुहर, यहां पढ़ें देश और दुनिया की 10 बड़ी खबरें

    उन्‍होंने अपनी बात रखते हुए यह भी साफ कर द‍िया क‍ि इस मामले के 26 जनवरी से पहले यह समाधान होने की उम्‍मीद है. हमें लगता है कि सरकार 26 जनवरी से पहले बात कर लेगी और सब कुछ निपट जाएगा. उन्‍होंने यह भी साफ क‍िया है क‍ि सरकार कभी नहीं चाहेगी कि किसान दिल्ली कूच करे. उन्‍होंने आंदोलन खत्‍म करने की क‍िसी तारीख का ज‍िक्र करते हुए यह स्‍पष्‍ट कर द‍िया है क‍ि 26 जनवरी से पहले आंदोलन को समाप्‍त क‍िया जा सकता है. लेक‍िन इस बयान के बाद यह भी स्‍पष्‍ट हो गया है क‍ि आंदोलन अभी अगले दो माह और चलेगा.

    जानकारी के मुताब‍िक क‍िसान नेता राकेश ट‍िकैत कल बृहस्‍पत‍िवार को हैदराबाद जाएंगे जहां पर एक मीट‍िंग को संबो‍ध‍ित करेंगे. वहीं, 29 नवंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र की शुरूआत से पहले वह महाराष्‍ट्र के एक कार्यक्रम में भी शाम‍िल होंगे. जहां किसानों से जुड़े इन सभी मुद्दों पर गंभीर चर्चा होने की संभावना जताई जा रही है.

    Tags: Agricultural law canceled, Farm laws, Farm Laws Repealed, Kisan Andolan, Rakesh Tikait

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर