Assembly Banner 2021

अब और भव्‍य बनेगा राम मंदिर, ट्रस्‍ट ने खरीदी 7,285 वर्ग फीट अत‍िरिक्‍त जमीन

पहले से और भव्‍य बनेगा राम मंदिर. (file pic)

पहले से और भव्‍य बनेगा राम मंदिर. (file pic)

Ram Mandir: इस जमीन को खरीदने के पीछे का मकसद प्रस्तावित राम मंदिर के परिसर को 70 एकड़ से बढ़ाकर 107 एकड़ तक करने की योजना का हिस्सा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 12:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. अयोध्‍या (Ayodhya) में बन रहा राम मंदिर (Ram Mandir) अब पहले से और भव्‍य बनेगा. दरअसल राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने प्रस्तावित मंदिर परिसर के बगल की ही 7,285 वर्ग फीट जमीन भी खरीद ली है. इसके लिए ट्रस्‍ट ने 1 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. इस जमीन को खरीदने के पीछे का मकसद प्रस्तावित राम मंदिर के परिसर को 70 एकड़ से बढ़ाकर 107 एकड़ तक करने की योजना का हिस्सा है.

ट्रस्‍ट ने यह जो नई जमीन खरीदी है, वो सुप्रीम कोर्ट की ओर से नवंबर 2019 में दिए गए फैसले के तहत राम मंदिर के निर्माण के लिए दी गई 70 एकड़ जमीन से सटी हुई है. ट्रस्ट ने यह जमीन अयोध्‍या के स्थानीय निवासी दीप नारायण से खरीदी है. दीप नारायण ने राम मंदिर ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में अपनी 7,285 वर्ग फीट जमीन की रजिस्ट्री पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वहीं ट्रस्‍ट के एक सदस्‍य ने बताया है कि ट्रस्ट प्रस्‍तावित राम मंदिर परिसर से लगे हुए मंदिरों, घरों और खुली जमीन के मालिकों से भी उनकी जगह खरीदने के लिए बात कर रहा है. खरीदी गई जमीन की कीमत करीब 1,373 रुपये प्रति वर्ग फीट है.



ट्रस्टी अनिल मिश्रा ने जानकारी दी है कि राम मंदिर प्रोजेक्ट के लिए ज्यादा जगह की जरूरत है, इसलिए यह जमीन खरीदी गई है. मुख्य मंदिर का निर्माण 5 एकड़ जमीन में होगा. अन्‍य 100 एकड़ की जमीन में संग्रहालय, पुस्तकालय, यज्ञशाला और भगवान राम के जीवन की विभिन्न घटनाओं को दर्शाने वाली आर्ट गैलरी समेत अन्‍य चीजें बनाई जाएंगी.

वहीं ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी के द्वारा बीते दिनों न्यूज़ 18 पर खास बातचीत के दरमियान बताया गया था कि माघ पूर्णिमा के 2 दिन पूर्व ट्रस्ट के खातों में 2100 करोड़ रुपये से ज्यादा आ चुके हैं. इस पर चंपत राय ने कहा कि बस उन्हीं की बात मान लीजिए, वह कम नहीं बोलते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज