अपना शहर चुनें

States

Ranchi News: रांची नगर निगम लाएगा 200 करोड़ का म्युनिसिपल बांड, बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज में रजिस्टर्ड कराने की तैयारी

रांची नगर निगम लाएगा दो सौ करोड़ का म्युनिसिपल बांड, बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज में रजिस्टर्ड कराने की तैयारी
रांची नगर निगम लाएगा दो सौ करोड़ का म्युनिसिपल बांड, बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज में रजिस्टर्ड कराने की तैयारी

रांची नगर निगम बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में निगम को रजिस्टर्ड कराने की कोशिश में जुटा है. रांची नगर निगम दो सौ करोड़ रुपए का म्युनिसिपल बांड मार्केट में लाने जा रहा है. हालांकि ये प्रक्रिया अभी इनिशियल स्टेज पर है, लेकिन नगर आयुक्त के अनुसार इसे लेकर काम तेजी से किया जा रहा है.

  • Share this:
रांची. झारखंड ( Jharkhand ) की राजधानी रांची शहर को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाए जाने की कबायद चल रही है. इसी कड़ी में निगम बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( Bombay Stock Exchange ) में रांची नगर निगम ( Ranchi Municipal Corporation) को रजिस्टर्ड कराने की कोशिश में जुटा है. रांची नगर निगम 2 सौ करोड़ रुपए का म्युनिसिपल बांड मार्केट में लाने जा रहा है. हालांकि ये प्रक्रिया अभी इनिशियल स्टेज पर है, लेकिन नगर आयुक्त के अनुसार इसे लेकर काम तेजी से किया जा रहा है. सब कुछ ठीक रहा तो पांच से छह महीने में बांड जारी हो जाएगा. इससे शहर का विकास आधिनिक और अंतर्राष्ट्रीय मानकों के तहत शुरू होगा.

निगम के बांड को बांबे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध कराने को लेकर पिछले दिनों नगर आयुक्त की नगर विकास विभाग के साथ एक बैठक भी हुई है. बैठक काफी संतोषजनक रही और इस दिशा में निगम ने कदम बढ़ा दिया है. शेयर मार्केट के जानकारों और चाटर्ड अकाउंटेंट के साथ भी लगातार समन्वय बनाकर फाइल तैयार किया जा रहा है. रांची नगर आयुक्त मुकेश कुमार को भी उम्मीद है कि अगर सबकुछ ठीक रहा तो अगले 5 से 6 महीनों महीने के अंदर यह बांड जारी कर दिया जाएगा. यह रकम नगर रांची में अपनी संपत्ति बनाने और नागरिक सुविधाओं में इजाफा करने में खर्च की जाएगी. इस रकम से शॉपिंग मॉल के साथ पार्किंग स्पॉट तैयार होंगे, जिससे शहर में पार्किंग की सुविधा के साथ शहर की खूबसूरती भी बढ़ेगी.

राँची नगर निगम को 26 करोड़ रुपये मिलेंगे



म्युनिसिपल बांड अब तक देश के 11 नगर निगम जारी कर चुके हैं. इन नगर निगम में लखनऊ, अमरावती, विशाखापट्टनम, अहमदाबाद, कोलकाता, सूरत, भोपाल, इंदौर, पुणे, हैदराबाद आदि शामिल हैं. सबसे ज्यादा रकम का म्युनिसिपल बांड अमरावती का है . वहीं अगर रांची नगर निगम की यह योजना धरातल पर उतरती है, तो केंद्र सरकार की तरफ से निगम को 26 करोड़ रुपये मिलेंगे. केंद्र सरकार की यह नीति है कि वह 100 करोड रुपये के म्युनिसिपल बांड पर 13 करोड़ रुपये नगर निगम को जारी करती है.
बॉन्ड से मजबूत होती है शहर की आधार भूत संरचना

म्युनिसिपल या नगर निगम बांड शहरी स्थानीय निकायों द्वारा जारी किये जाते हैं. शहर में विकास कार्यों को जारी रखने के लिए धन की जरूरत इससे पूरी की जाती है. इस तरह से बांड जारी कर नगर निगम पैसा जुटाते हैं और उसे शहर के इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े कार्यों पर खर्च करते हैं. पूंजी बाजार के नियामक सेबी के अनुसार सिर्फ वही नगर निगम ऐसे बांड जारी कर सकते हैं, जिनका नेटवर्थ लगातार 3 वित्त वर्ष तक निगेटिव न रहा हो. साथ ही, पिछले एक साल में उन्होंने कोई लोन डिफाल्ट न किया हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज