बांग्‍लादेशी टका को रुपये से मजबूत बताकर बुरे फंसे सुरजेवाला, हटाना पड़ा ट्वीट

बांग्‍लादेशी टका को रुपये से मजबूत बताकर बुरे फंसे सुरजेवाला, हटाना पड़ा ट्वीट
रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट किया कि रुपया बांग्‍लादेशी मुद्रा टका से भी नीचे पहुंच गया है.

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Shingh Surjewala) ने गुजरात के सीएम रहते नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के एक भाषण का वीडियो शेयर किया. इसमें तत्‍कालीन सीएम मोदी मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) सरकार में रुपया के गिरने की तीखी आलोचना कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2019, 12:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कांग्रेस के लिए तब शर्मनाक स्थिति पैदा हो गई जब पार्टी प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को आर्थिक मोर्चे पर पूरी तरह नाकाम साबित करने की कोशिश की. हालांकि, इस कोशिश में वह एक बड़ी गलती कर गए. ट्विटर पर लोगों ने उनकी गलती को तुरंत लपक लिया. इसके बाद उन्‍हें अपना ट्वीट हटाना पड़ा. दरअसल, उन्‍होंने ट्वीट किया कि रुपया बांग्‍लादेशी मुद्रा टका से भी नीचे पहुंच गया है.

सुरजेवाला ने कहा-बांग्‍लादेशी टका का मूल्‍य 1.18 रुपये हो गया है 
सुरजेवाला ने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए ट्वीट किया, 'अमेरिकी डॉलर को तो भूल ही जाइए, रुपया गांग्‍लादेशी टका से भी नीचे पहुंच गया है. इस समय रुपया इतना बीमार है कि एक बांग्‍लादेशी टका का मूल्‍य 1.18 रुपये के बराबर हो गया है.'

साथ ही सुरजेवाला ने आज सुबह किए ट्वीट में गुजरात के सीएम रहने के दौरान दिए नरेंद्र मोदी के एक भाषण का वीडियो भी शेयर किया. इसमें वह मनमोहन सिंह सरकार में रुपया के गिरने की तीखी आलोचना कर रहे हैं. बता दें कि आज सुबह 11 बजे 1 रुपया की कीमत 1.18 टका है. इसका मतलब है कि रुपया टका के मुकाबले 18 फीसदी मजबूत है.
सोशल मीडिया पर जमकर हुई सुरजेवाला की खिंचाई, हटाया ट्वीट


सुरजेवाला के इस ट्वीट को सोशल मीडिया पर लोगों ने तुरंत लपक लिया और उनकी खिंचाई शुरू कर दी. इसके बाद कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता अपना यह ट्वीट हटा दिया. चालू वित्‍त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी 5 फीसदी रही, जो छह साल में सबसे खराब थी. इसके बाद से कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर हमला कर रही है. सीबीआई हिरासत में रहने के दौरान पूर्व वित्‍त मंत्र और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता पी. चिदंबरम ने भी अर्थव्‍यवस्‍था की रफ्तार पर चुटकी ली थी. उन्‍होंने बुधवार को सीबीआई कोर्ट से बाहर आते समय पांच उंगलियां दिखाकर जीडीपी को लेकर सरकार पर तंज कसा था.

सुरजेवाला का ट्वीट.


'सरकार के वित्‍तीय कुप्रबंधन से देश में आर्थिक आपातकाल के हालात'
सुरजेवाला ने सप्‍ताह की शुरुआत में आरोप लगाया था कि मोदी सरकार के वित्‍तीय कुप्रबंधन के कारण देश में आर्थिक आपातकाल के हालात हैं. अर्थव्‍यवस्‍था की निराशाजनक स्थिति और जीडीपी के आंकड़े इसकी गवाही दे रहे हैं. हालांकि, हालात जैसे दिख रहे हैं उससे भी ज्‍यादा खराब हैं. उन्‍होंने कहा कि निर्यात घट रहा है, आयात बढ़ रहा है, मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट्स बंद हो रही हैं और हर सेक्‍टर में नौकरियां घट रही हैं. बीजेपी सरकार अर्थव्‍यवस्‍था को उबारने के लिए ठोस कदम उठाने के बजाय बचाव कर रही है. ये नीम-हकीम के सर्जन बनने का स्‍पष्‍ट उदाहरण है. स्‍वाभाविक है कि मरीज की आपकी सोच से पहले ही मौत होगी.

ये भी पढ़ें: 

चिदंबरम को इस बार तिहाड़ जेल में ही मनाना पड़ेगा अपना जन्मदिन

चिदंबरम के जेल जाने के बाद सिब्बल का सवाल- कौन करेगा मौलिक आजादी की रक्षा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading