लाइव टीवी

बलात्कारियों को 21 दिनों में हो फांसी, 11 दिसंबर को आंध्र प्रदेश सरकार लाएगी इसके लिए बिल

News18Hindi
Updated: December 9, 2019, 7:30 PM IST
बलात्कारियों को 21 दिनों में हो फांसी, 11 दिसंबर को आंध्र प्रदेश सरकार लाएगी इसके लिए बिल
जगन मोहन रेड्डी सरकार बलात्कार पर एक बिल लाने वाली है (फाइल फोटो)

इससे पहले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) हैदराबाद की पशुचिकित्सक के साथ सामूहिक बलात्कार (Gang Rape) और उसकी हत्या के चार आरोपियों के कथित मुठभेड़ में मारे जाने को लेकर भी तेलंगाना के अपने समकक्ष के चंद्रशेखर राव (Chandrashekhar Rao) और तेलंगाना पुलिस की प्रशंसा कर चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2019, 7:30 PM IST
  • Share this:
अमरावती. आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) की जगनमोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) सरकार एक बिल लाने की तैयारी में है, जिसमें बलात्कार (Rape) के दोषियों को 21 दिनों में फांसी की सजा दिए जाने का प्रावधान है. सूत्रों के मुताबिक सरकार 11 दिसंबर को इस बिल को राज्य विधानसभा (State Assembly) में पेश कर सकती है.

इससे पहले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) हैदराबाद की पशुचिकित्सक के साथ सामूहिक बलात्कार (Gang Rape) और उसकी हत्या के चार आरोपियों के कथित मुठभेड़ में मारे जाने को लेकर भी तेलंगाना के अपने समकक्ष के चंद्रशेखर राव (Chandrashekhar Rao) और तेलंगाना पुलिस की प्रशंसा कर चुके हैं.

हैदराबाद गैंगरेप के बाद जगनमोहन रेड्डी ने कड़ा कानून लाने की कही थी बात
जगनमोहन रेड्डी ने यह भी घोषणा की कि उनकी सरकार महिलाओं के विरूद्ध अत्याचार के मामलों की त्वरित सुनवाई और उपयुक्त सजा सुनिश्चित करने के लिए कड़ा कानून बनाने के लिए विधानसभा (Assembly) के वर्तमान सत्र में एक विधेयक लाएगी.

उन्होंने विधानसभा में अपने भावुक भाषण में ऐसे कठोर कानूनों की वकालत की जो महिलाओं के खिलाफ अपराध (Crime Against Women) से जुड़े मामलों की शीघ्र सुनवाई और मिसाल दिये जाने योग्य सजा सुनिश्चित करेगी.

एनकाउंटर के बाद जगन ने कहा था- KCR और तेलंगाना पुलिस अधिकारियों को मेरा सलाम
जगन ने कहा था, 'दो बेटियों का पिता होने के नाते इस घटना से मुझे बहुत पीड़ा हुई. पिता के तौर पर मुझे ऐसी घटनाओं पर क्या प्रतिक्रिया देनी चाहिए? किस तरह की सजा अभिभावक (Guardian) को राहत देगी. हमें उसके बारे में सोचना चाहिए.'उन्होंने कहा, 'घटना हुई. मीडिया ने दिखाया कि गलत हुआ. बाद में तेलंगाना सरकार (Telangana Government) ने जवाब दिया. KCR और तेलंगाना के पुलिस अधिकारियों को मेरा सलाम.'

जगनमोहन ने मानवाधिकार की बात करने वालों पर भी साधा था निशाना
जगनमोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) ने मानवाधिकार का शोर मचाने वालों को निशाने पर लेते हुए कहा, 'जब किसी फिल्म में नायक मुठभेड़ में किसी को मारता है तो हम सभी तालिया बजाते हैं और कहते हैं कि फिल्म अच्छी है.'

उन्होंने कहा, '(लेकिन) यदि कोई साहसिक व्यक्ति असल जिंदगी में वही करता है.... तो कोई राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (Human Rights Commission) के नाम पर दिल्ली से आएगा. वह कहेगा कि यह गलत है, ऐसा नहीं होना चाहिए. वह सवाल उठाता है कि उन्होंने ऐसा क्यों किया.' उन्होंने कहा, 'हम देखते हैं कि ऐसे सवाल उठ रहे हैं. हमारे कानून ऐसी दयनीय दशा में हैं.'

(भाषा के इनपुट सहित)

यह भी पढ़ें: एक दिन में औसतन 6 रेप केस के बाद केरल यौन घटनाओं के मामले में सबसे ऊपर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2019, 6:40 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर