लाइव टीवी

किशोर कुमार की इस फिल्म को कोर्ट ने किया था बैन, अब 60 साल बाद मिली रील

News18Hindi
Updated: February 6, 2020, 8:27 AM IST
किशोर कुमार की इस फिल्म को कोर्ट ने किया था बैन, अब 60 साल बाद मिली रील
बेगुनाह फिल्म का एक दृश्य

NFAI के निदेशक प्रशांत ने बताया कि किशोर कुमार (Kishor Kumar) की फिल्म 'बेगुनाह' की 16 MS की दो रील्स मिली हैं जो 60 से 70 मिनट की हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2020, 8:27 AM IST
  • Share this:
मुंबई. नेशनल फिल्म आर्काइव ऑफ इंडिया (NFAI) को साल 1957 में बैन हुई फिल्म 'बेगुनाह' की रील मिली है. 60 साल पहले बॉम्बे हाईकोर्ट ने इस फिल्म के सभी प्रिंट्स को रद्द करने के आदेश दिये थे. ऐसे में इतने सालों बाद इसके प्रिंट्स मिलना लोगों को चौंकाने वाला है. बीते हफ्ते मिली इस क्लिप में देखा जा सकता है कि एक ओर जहां एक्टर शकीला फिल्म में डांस कर रही हैं तो वहीं म्यूजिक कंपोजर जयकिशन पियानो बजाते दिख रहे हैं. इसके साथ ही इस फिल्म में मुकेश कुमार ऐ प्यासे दिल बेजुबां की प्लेबैक सिंगिंग कर रहे हैं.

समाचार एजेंसी PTI के अनुसार NFAI के निदेशक प्रकाश ने बताया कि कई सालों से लोग रील की तलाश कर रहे थे. यह हमारे पास नहीं थी, ऐसे में हम भी इसे खोजने लगे. इसका मिलना हमारे लिए चमत्कार है.

फिल्म के सभी प्रिंट्स नष्ट करने के थे आदेश
दरअसल, साल 1957 में बनी इस फिल्म के खिलाफ एक अमेरिकन कंपनी पैरामाउंट पिक्चर्स अदालत चली गई थी. कंपनी ने आरोप लगाया था कि साल 1954 में उनके द्वारा बनाई गई एक फिल्म Nock On Wood को कॉपी कर यह फिल्म बनाई गई है. इसके बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने पैरामाउंट के पक्ष में फैसला सुनाया था. कोर्ट ने अपने आदेश में यह भी कहा था कि फिल्म के सभी प्रिंट्स नष्ट कर दिये जाएं.

हालांकि, इस फिल्म को पसंद करने वाले कुछ लोगों के पास इसकी रील्स थीं. प्रकाश ने बताया कि जयकिशन को चाहने वाले इस फिल्म को आज तक खोज रहे थे क्योंकि यह ऐसी फिल्म है जिसमें उनकी अदाकारी लंबी है. बताया कि 16 MS की दो रील्स मिली हैं, जो 60 से 70 मिनट की हैं. उन्होंने बताया कि एक रील दो महीने पहले आई और एक बीते हफ्ते आई है. उन्होंने कहा कि रील्स की हालत बहुत अच्छी नहीं हैं, लेकिन गाना चल रहा है.

यह भी पढ़ें: आदित्य ठाकरे की तारीफ में बोलीं दिशा पाटनी- महाराष्ट्र अब सुरक्षित हाथों में

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 8:14 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर