शरद पवार के शपथ ग्रहण में न आने की वजह नहीं थी पीछे की सीट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शरद पवार के शामिल नहीं होने के कई दिन बाद अब इस मामले में राष्ट्रपति भवन की ओर से इस पर सफाई आई है.

News18Hindi
Updated: June 5, 2019, 6:04 PM IST
शरद पवार के शपथ ग्रहण में न आने की वजह नहीं थी पीछे की सीट
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: June 5, 2019, 6:04 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शरद पवार के शामिल नहीं होने के कई दिन बाद अब इस मामले में राष्ट्रपति भवन की ओर से इस पर सफाई आई है.

राष्ट्रपति भवन की ओर से कहा गया है कि शरद पवार को पांचवी पंक्ति में नहीं बल्कि वीवीआईपी पंक्ति में जगह दी गई थी. राष्ट्रपति भवन की ओर से कहा गया कि पवार को वहां जगह दी गई थी जहां सभी वरिष्ठ नेता बैठे थे.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के प्रेस सेक्रेटरी अशोक मलिक ने कहा कि पवार की सीट पहली पंक्ति के वीवीआईपी सेक्शन में थी. शपथ ग्रहण समारोह के लिए 30 मई को शरद पवार को वी सेक्शन में बैठने के लिए आमंत्रित किया गया था, जहां लगभग सभी बड़े नेता बैठे थे. यहां तक कि वी सेक्शन में भी उनको फर्स्ट रो में सीट दी गई थी.

राष्ट्रपति भवन की ओर से ये सफाई तब आई है जब मीडिया रिपोर्ट्स में यह खबर आई थी कि पांचवी पंक्ति में सीट मिलने के कारण शरद पवार शपथ ग्रहण समारोह में नहीं पहुंचे थे. रिपोर्ट्स में सामने आया था कि पवार की पार्टी प्रोटोकॉल के हिसाब से सीट न मिलने की बात से खफा थी.

बता दें 30 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ ग्रहण समारोह हुआ था. जिसके लिए सभी वरिष्ठ नेताओं समेत शरद पवार को भी निमंत्रण भेजा गया था. पवार को तय प्रोटोकॉल के अनुरूप सीट नहीं मिलने के कारण उनकी पार्टी भी नाराज़ थी और वह कार्यक्रम में भी नहीं पहुंचे थे.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने नाराजगी ज़ाहिर करते हुए कहा था कि पवार वरिष्ठ राष्ट्रीय नेता हैं और वह मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री के रूप में कार्य कर चुके हैं. पवार को बैठने के लिए जो सीट दी गई है वह प्रोटोकॉल के अनुसार नहीं है.

ANALYSIS: पाटिल के 'हाथ' छोड़ BJP में जाने से महाराष्ट्र की राजनीति में क्या होगा असर?
Loading...

कांग्रेस में विलय पर एनसीपी का साफ इनकार, कही ये बात...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 5, 2019, 6:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...