तंबाकू से लेकर सब्जी तक, लोकसभा में तीन तलाक पर रविशंकर के तर्क

कानून मंत्री ने कहा कि जब 20 से अधिक देश तीन तलाक बैन कर सकते हैं तो हम क्यों नहीं कर सकते? उन्होंने कहा कि महिला का धर्म भले ही कुछ भी हो, लेकिन वह हिन्दूस्तान की बेटी है इसलिए उसकी रक्षा करना हमारा फर्ज है.

News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 3:00 PM IST
तंबाकू से लेकर सब्जी तक, लोकसभा में तीन तलाक पर रविशंकर के तर्क
लोकसभा में तीन तलाक पर चर्चा शुरू
News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 3:00 PM IST
लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा शुरू हो गई है. यह तीसरी बार है जब लोकसभा में यह बिल पेश हुआ है. गुरुवार को लोकसभा में चर्चा की शुरुआत करते हुए कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि तीन तलाक से पीड़ित मुस्लिम बहनों ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई थी. इसके बाद कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया था.

कानून मंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को शरिया के खिलाफ बताया था और इस पर कानून बनाने की मांग की थी. उन्होंने कहा कि कोर्ट ने अन्य मुस्लिम देशों का भी उदाहरण दिया, जहां शरिया कानून बदला गया.

रविशंकर प्रसाद ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी तीन तलाक के मामले नहीं रुके हैं और 300 से अधिक मामले सामने आए हैं. इस दौरान उन्होंने तीन तलाक की वजह बताने वाली कुछ हेडलाइन भी पढ़ी. उन्होंने कहा- पत्नी तंबाकू वाला मंजन करती थी तो दिया तीन तलाक, पत्नी ने सब्जी के लिए मांगे 30 रुपये तो शौहर बोला तलाक-तलाक-तलाक, मोबाइल ऑपरेटर ने पत्नी का अश्लील वीडियो बनाना चाहा, विरोध करने पर तलाक दे दिया गया.

महिला की रक्षा करना हमारा फर्ज

कानून मंत्री ने कहा कि जब 20 से अधिक देश तीन तलाक बैन कर सकते हैं तो हम क्यों नहीं कर सकते? उन्होंने कहा कि महिला का धर्म भले ही कुछ भी हो, लेकिन वह हिन्दूस्तान की बेटी है इसलिए उसकी रक्षा करना हमारा फर्ज है.

ये भी पढ़ें: SP सांसद के बिगड़े बोल, कहा- बीवी को गोली मारने से तलाक देना बेहतर
First published: July 25, 2019, 3:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...