स्पुतनिक-V की मिलेगी तकनीक, पढ़ें देश और दुनिया की 10 बड़ी खबरें एक क्लिक में

रूस स्पुतनिक-V की तकनीक देने और उत्पादन बढ़ाने को तैयार. (फाइल फोटो)

रूस स्पुतनिक-V की तकनीक देने और उत्पादन बढ़ाने को तैयार. (फाइल फोटो)

आइए जानते हैं उन प्रमुख खबरों के बारे में जिन्होंने देश ही नहीं दुनियाभर में सुर्खियां बटोरीं और आज इन पर आप सबकी रहेगी नजर.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. केंद्र के सख्त अल्टीमेटम के बाद माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत समेत संघ के कई नेताओं के निजी ट्विटर अकाउंट से हटाए ब्लू टिक को फिर से बहाल कर दिया है. वहीं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगाई गई पाबंदियों में कुछ ढील देते हुए राज्य में लॉकडाउन को एक और सप्ताह बढ़ाते हुए 14 जून तक जारी रखने की शनिवार को घोषणा की.

रूस स्पुतनिक-V की तकनीक देने और उत्पादन बढ़ाने को तैयार

कोविड रोधी टीकों की मांग को पूरा करने के वास्ते भारतीय कंपनियों के रूसी निर्मित ‘स्पुतनिक-V’ टीके का उत्पादन करने की तैयारियों के बीच राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने शनिवार को कहा कि रूस दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है, जो टीका प्रौद्योगिकी हस्तांतरण और विदेश में उत्पादन को बढ़ाने के लिए तैयार है. दिल्ली में अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा था कि भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) को भारत में निश्चित शर्तों के साथ अध्ययन, परीक्षण और विश्लेषण के लिए कोविड-19 रोधी टीके स्पुतनिक-V के उत्पादन की मंजूरी दे दी है.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)
COVID-19: तमिलनाडु में कुछ ढील के साथ लॉकडाउन 14 जून तक बढ़ा

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगाई गई पाबंदियों में कुछ ढील देते हुए राज्य में लॉकडाउन को एक और सप्ताह बढ़ाते हुए 14 जून तक जारी रखने की शनिवार को घोषणा की.

उन्होंने आवश्यक वस्तुओं को बेचने वाली दुकानों को फिर से खोलने और सरकारी कार्यालयों में कामकाज फिर से शुरू किये जाने की अनुमति देने के साथ ही कुछ पाबंदियों में ढील दी. मुख्यमंत्री ने कहा कि कुल मिलाकर राज्य में अब कोरोना वायरस की स्थिति नियंत्रण में है. उन्होंने कहा कि कोयंबटूर और नीलगिरी समेत 11 जिलों में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ रहा है.



(यहां पढ़ें पूरी खबर)

जांच एजेंसी CBI में भी ड्रेस कोड, दफ्तर में नहीं पहन सकते जीन्स-टीशर्ट और चप्पलें

अब देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई में भी ड्रेस कोड लागू हो गया है, जिसके मुताबिक जीन्स, टीशर्ट, स्पोर्ट्स शू और चप्पलें पहनकर दफ्तर नहीं जा सकते हैं. ऑफिस जाने के लिए पुरुषों को कॉलर वाले शर्ट, ट्राउजर्स/फॉर्मल पैंट और फॉर्मल शू पहनना होगा. इतना ही नहीं, उन्हें अच्छी तरह से शेव करके भी दफ्तर आना होगा.

वहीं महिलाएं सूट, साड़ी, फॉर्मल शर्ट और ट्राउजर्स पहन सकती हैं. सीबीआई दफ्तर में कैजुअल ड्रेस पहनकर आने की मनाही हो गई है. सीबीआई के प्रशासनिक विंग ने 3 जून को इस बावत एक ऑर्डर निकाला है और CBI के एम्प्लॉयीज को "Proper ऑफिस attire" पहनकर आने की ताकीद दी है.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

महाराष्ट्र में मानसून ने दी दस्तक, तटीय इलाकों में हुई बारिश

महाराष्ट्र में शनिवार को पहुंचे दक्षिण पश्चिम मानसून के कारण राज्य के कुछ तटीय इलाकों में बारिश हुई. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय केंद्र की निदेशक शुभांगी भुते ने कहा कि मानसून उम्मीद के मुताबिक रहा है.

उन्होंने कहा, ‘‘दक्षिण पश्चिम मानसून महाराष्ट्र में पहुंच गया है. यह औपचारिक रूप से तटीय रत्नागिरी जिले में हरनाई बंदरगाह में पहुंच गया है. इसके दस्तक देने का वास्तविक क्षेत्र सोलापुर तथा मराठावाड़ा के कुछ हिस्सों तक और उसके बाद तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश तक होता है..’’

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

दिल्‍ली-एनसीआर में सोमवार से शुरू होने जा रही मेट्रो, इन बातों का रखें खयाल

दिल्‍ली सरकार की ओर से लॉकडाउन की नई गाइडलाइंस आने के बाद अब दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने भी मेट्रो ट्रेन सेवाएं शुरू करने का फैसला किया है. सोमवार से आम लोगों के लिए मेट्रो सेवा शुरू की जा रही है. हालांकि इस दौरान मेट्रो में सिर्फ 50 फीसदी सवारियों के बैठने की सुविधा होगी.

डीएमआरसी के अनुसार सोमवार से उपलब्‍ध ट्रेनों में से आधी ट्रेनों को शुरू किया जा रहा है. इस दौरान ट्रेन पकड़ने के लिए अलग-अलग लाइनों पर 5 से 15 मिनट का इंतजार करना पड़ेगा. वहीं बुधवार के बाद से बढ़ी हुई संख्‍या के साथ ट्रेनें पूरी क्षमता से चलेंगी और लोगों को लॉकडाउन के पहले की तरह ही सामान्‍य फ्रीक्‍वेंसी पर ट्रेनें उपलब्‍ध होंगी.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

तमिलनाडु में किसानों की नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग

तमिलनाडु के किसान संगठन विवासायिगल संगम के सदस्यों ने एक साल पहले केंद्र द्वारा बनाये गए तीन कृषि कानूनों की प्रतियां शनिवार को जलाते हुए उन्हें रद्द करने की मांग की. राज्य के विभिन्न हिस्सों में किसानों ने चेहरे पर मास्क पहनकर और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए छोटे-छोटे समूहों में एकत्रित होकर प्रदर्शन किया.

देशभर में किसानों के साल भर लंबे प्रदर्शन और नई दिल्ली में आंदोलन के दौरान उनके बलिदानों को याद करते हुए संगम के प्रदेश महासचिव पी षडमुगम ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन से विधानसभा में इन कृषि कानूनों के खिलाफ एक प्रस्ताव पास करने के लिए कदम उठाने का अनुरोध किया.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

ट्विटर ने मोहन भागवत समेत RSS पदाधिकारियों के अकाउंट पर ब्लू टिक को बहाल किया

केंद्र के सख्त अल्टीमेटम के बाद माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत समेत संघ के कई नेताओं के निजी ट्विटर अकाउंट से हटाए ब्लू टिक को फिर से बहाल कर दिया है.

बता दें कि ट्विटर ने शनिवार को संघ प्रमुख के अलावा अरुण कुमार, सुरेश जोशी और कृष्णगोपाल के ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक हटा दिया था. इससे पहले शनिवार को ही उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के निजी अकाउंट से सत्यापन वाला ब्लू टिक हटाया और बाद में इसे बहाल कर दिया.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी बने टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में शानदार जीत हासिल करने वाली टीएमसी की शनिवार को बड़ी बैठक हुई. बैठक में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है.

सायोनी घोष को टीएमसी यूथ कांग्रेस की जिम्मेदारी दी गई है. बैठक में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी शामिल हुई थीं. टीएमसी ने अपने ट्विटर हैंडल से जानकारी देते हुए कहा कि पार्टी ने संगठन को मजबूत करने के लिए कुछ नए कदम उठाए हैं. पार्टी में आगे से वन मैन वन पोस्ट की नीति लागू होगी.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान देश में 646 डॉक्टरों की मौत: आईएमए

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर में 646 लोगों की जान गई है. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने इस बात की जानकारी दी. इन 646 में से सबसे ज्यादा 109 डॉक्टरों ने दिल्ली में जान चली गई. इसके बाद बिहार में 97 चिकित्सकों की जान गई.

वहीं उत्तर प्रदेश में 79 डॉक्टरों की मौत हो गई. इसके बाद राजस्थान में 43, झारखंड में 39, गुजरात में 37, आंध्र प्रदेश में 35, तेलंगाना 34, तमिलनाडु में 32, पश्चिम बंगाल में 30, महाराष्ट्र और ओडिशा में 23 मध्य प्रदेश में 16 डॉक्टरों की जान चली गई. आईएमए के अनुसार इस महामारी की पहली लहर के दौरान 748 डॉक्टरों की जान चली गयी थी.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

थर्ड वेव में दिल्ली में हर रोज आ सकते हैं कोरोना के 37,000 केस

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की आने वाली थर्ड वेव और भयावह हो सकती है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की है कि एक्सपर्ट के साथ की गई मीटिंग में कोरोना की थर्ड वेव में जो पीक आएगा, उसमें हर रोज 37,000 से ज्यादा केस आने की संभावना जताई गई है. और दिल्ली सरकार इसको लेकर पूरी तैयारी में अभी से जुट गई है.

सीएम केजरीवाल ने बताया कि अप्रैल माह में जो सबसे ज्यादा केस पीक के दौरान रिकॉर्ड किए गए वह 28,000 रिकॉर्ड किए गए थे. लेकिन अब एक्सपर्ट्स की राय के बाद पीक के दौरान यह 37,000 हो सकती है.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज