महाराष्‍ट्र में कोरोना बेकाबू, पढ़ें देश-दुनिया की 10 बड़ी खबरें एक क्लिक में

15 मई तक यूपी बन सकता है हॉट स्पॉट (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर- PTI)

15 मई तक यूपी बन सकता है हॉट स्पॉट (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर- PTI)

आइए जानते हैं उन प्रमुख खबरों के बारे में जिन्होंने देश ही नहीं दुनियाभर में सुर्खियां बटोरीं और आज इन पर आप सबकी रहेगी नजर.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 6:37 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 66,191 मामले सामने आए और पिछले 24 घंटे में 832 लोगों की मौत दर्ज की गई है. हालांकि इसी दौरान 61,450 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है. वहीं देश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्‍सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. देश की मौजूदा स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर फंड से देश भर में 551 प्रेशर स्विंग अब्सॉर्प्शन (पीएसए) ऑक्सीजन संयंत्र लगाने का फैसला किया है.

भारत में बढ़ते संक्रमण से दहशत में पड़ोसी, बांग्लादेश ने बंद किया बॉर्डर

बांग्लादेश ने भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के मद्देजनर देश के साथ लगती अपनी सीमाओं को सोमवार से दो सप्ताह के लिए बंद करने का फैसला किया है. बांग्लादेश के विदेश मंत्री ए. के. अब्दुल मोमीन ने रविवार को पत्रकारों को बताया कि भूमि मार्ग के जरिए भारत से बांग्लादेश आने पर सोमवार से 14 दिन का प्रतिबंध रहेगा.

उन्होंने कहा, बांग्लादेश ने भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए यह फैसला किया है. मंत्री ने कहा कि पड़ोसी देश के लोगों के आवागमन के लिए भूमि मार्ग दो सप्ताह तक बंद रहेगा लेकिन माल से लदे वाहनों को परिचालन की अनुमति होगी.
(यहां पढ़ें पूरी खबर)

ब्रिटेन ने भारत को 600 से अधिक ऑक्सीजन कॉन्संट्रेट और वेंटिलेटर भेजे

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कारण चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है. ऑक्सीजन, दवाइयों की कमी से कई राज्य जूझ रहे हैं. ऐसे में ब्रिटेन भारत की मदद के लिए आगे आया है. ब्रिटेन ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए जीवन रक्षक मेडिकल उपकरण भेजा है.



ब्रिटेन द्वारा 600 से अधिक मेडिकल उपकरण भारत भेजे गए हैं. ये सभी उपकरण 27 अप्रैल तक भारत पहुंच जाएंगे.कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भारत की मदद के लिए ब्रिटेन ने 495 ऑक्सिजन कंसन्ट्रेटर, 120 वेंटिलेटर और दूसरे मेडिकल उपकरण भेजे हैं.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

ऑक्सीजन पर केंद्र का बड़ा फैसला, सिर्फ मेडिकल यूज की अनुमति

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र ने कहा कि तरल (लिक्विड) ऑक्सीजन के पूरे भंडार का उपयोग केवल चिकित्सीय उद्देश्य के लिए किया जाना चाहिए, किसी भी अन्य उद्योग के लिए नहीं.

साथ ही केंद्र ने ऑक्सीजन उत्पादन इकाइयों को अधिकतम उत्पादन करने और ऑक्सीजन को तत्काल केवल चिकित्सीय उपयोग के लिए उपलब्ध कराने को कहा. फैसले के तहत गैर-स्वास्थ्य उद्देश्यों के लिए लिक्विड ऑक्सीजन के उपयोग को बैन कर दिया गया है.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

गगनयान पर नजर रखने के लिये संचार उपग्रह लांच करेगा ISRO

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) गगनयान मिशन शुरू होने के बाद उससे संपर्क बरकरार रखने में मदद के लिये एक संचार उपग्रह लांच करेगा. सूत्रों ने यह जानकारी दी.

उन्होंने कहा कि गगनयान अभियान के अंतिम चरण में पहुंचने से पहले यह उपग्रह लांच किया जाएगा, जो अंतरिक्ष यात्रियों को लोअर अर्थ ऑर्बिट (एलईओ) भेजेगा. मानव रहित इस अभियान का पहला चरण दिसंबर में शुरू होगा.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

आरोग्‍य सेतु एप पर रजिस्‍ट्रेशन कराने पर ही लगेगी कोरोना वैक्‍सीन

कोरोना वायरस को हराने के लिए देश में 1 मई से केंद्र सरकार की ओर से टीकाकरण का तीसरा चरण शुरू होने वाला है. इस चरण में देश के 18 साल से अधिक के सभी लोग कोरोना वैक्‍सीन लगवाने के योग्‍य होंगे.

अब इसे लेकर केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्‍यों को पत्र लिखकर इसके संबंध में जानकारी दी है. सरकार की ओर से कहा गया है कि 18 से 45 साल की उम्र के लोगों के लिए कोविन वेब पोर्टल पर पंजीकरण कराना और टीकाकरण के लिए समय लेना अनिवार्य होगा.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

महाराष्ट्र सरकार का बड़ा फैसला, 18 साल के ऊपर वालों को भी लगेगी फ्री वैक्‍सीन

देश में कोरोना महामारी की जंग जीतने के लिए कोरोना टीकाकरण अभियान पर लगातार जोर दिया जा रहा है. कोरोना से सबसे ज्‍यादा प्रभावित राज्‍यों में शामिल महाराष्‍ट्र ने कोरोना वैक्‍सीन अभियान को तेज करने के लिए आज एक बड़ा फैसला किया है.

महाराष्‍ट्र सरकार ने 1 मई से 18 साल से ऊपर वालों को भी फ्री में वैक्सीन लगवाने का फैसला किया है. उद्धव ठाकरे सरकार के इस फैसले से कोरोना वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम में तेजी आएगी और ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को कोरोना टीका लगाया जा सकेगा.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

भारत को वैक्सीन के लिए कच्चा माल देने को तैयार हुआ अमेरिका

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर काफी घातक साबित हो रही है. रोजाना बड़ी संख्‍या में नए कोरोना केस सामने आने के साथ ही बड़ी संख्‍या में मौतें भी हो रही हैं. ऐसे में ब्रिटेन ने पहले भारत को मदद देने का फैसला किया.

इसके बाद अमेरिका ने भी भारत को वैक्‍सीन उत्‍पादन, ऑक्‍सीजन से लेकर वेंटिलेटर्स तक हर स्‍तर पर मदद करने की बात कही है. यह सहमति अमेरिका के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और भारत के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के बीच हुई बातचीत में बनी है.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 66,191 नए केस, 24 घंटे में 832 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 66,191 मामले सामने आए और पिछले 24 घंटे में 832 लोगों की मौत दर्ज की गई है. हालांकि इसी दौरान 61,450 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है.

राज्य में एक्टिव केस 6,98,354 हैं, जबकि 35,30,060 लोग इलाज पाकर स्वस्थ हो चुके हैं. राज्य में संक्रमण के चलते 64,760 लोगों की मौत हुई है. दूसरी मुंबई में कोरोना वायरस के 5,542 नए मामले सामने आए हैं, पिछले 24 घंटों में 8,478 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है, जबकि 64 लोगों की मौत हुई है.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

कोरोना से जंग में भारत को मदद भेजेगा फ्रांस, कहा- हम भारतीयों के साथ

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेज वृद्धि और ऑक्सीजन की कमी के संकट के बीच फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने शुक्रवार को कहा कि उनका देश स्थिति से निपटने में भारत को सहयोग प्रदान करने के लिए तैयार है.

मैक्रों ने कहा, ‘‘कोविड-19 की स्थिति बिगड़ने के बीच, मैं भारत के लोगों के साथ एकजुटता का संदेश देना चाहता हूं. इस संघर्ष में फ्रांस आपके साथ है. इस संकट ने किसी को नहीं छोड़ा. हम सहयोग प्रदान करने के लिये तैयार हैं.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)

PM केयर्स फंड से 551 जिला अस्पतालों में लगाए जाएंगे प्‍लांट

देश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्‍सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. देश की मौजूदा स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर फंड से देश भर में 551 प्रेशर स्विंग अब्सॉर्प्शन (पीएसए) ऑक्सीजन संयंत्र लगाने का फैसला किया है.

प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, पीएम मोदी ने निर्देश दिया है कि इन ऑक्सीजन प्लांट को जल्द से जल्द चालू जाना चाहिए. ये प्लांट जिला स्तर पर ऑक्सीजन की उपलब्धता को प्रमुख बढ़ावा देंगे. PMO के मुताबिक, 551 ऑक्सीजन प्लांट के लिए फंड पीएम केयर से दिया जाएगा.

(यहां पढ़ें पूरी खबर)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज