रायबरेली के नाम सोनिया गांधी की चिट्ठी: जो कुर्बानी देनी पड़ेगी, दूंगी

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आने के बाद यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र यानी उत्तर प्रदेश के रायबरेली के लोगों के नाम एक चिट्ठी लिखकर अपनी भावनाओं का इज़हार करते हुए धन्यवाद दिया.

News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 2:47 PM IST
News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 2:47 PM IST
संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि देश के मूल्यों की रक्षा करने के लिए वह हर तरह के बलिदान के लिए तैयार हैं. साथ ही, गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र से लोकसभा चुनाव 2019 जीतने के बाद रायबरेली के लोगों को धन्यवाद भी दिया. रायबरेली के लोगों के नाम संबोधित एक चिट्ठी में कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने अपनी भावनाओं का इज़हार किया.

पढ़ें: अब महात्मा गांधी की राह पर चलना चाहते हैं राहुल गांधी! 



इस खुले खत में सोनिया गांधी ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को भी धन्यवाद दिया कि उन्होंने उनके खिलाफ कोई उम्मीदवार चुनावी मैदान में खड़ा नहीं किया. इस पत्र में गांधी ने कहा कि 'मैं आपसे वादा करती हूं कि देश के बुनियादी मूल्यों की रक्षा करने और कांग्रेस के पूर्वजों की महान परंपरा को बरकरार रखने के लिए, मुझे जो भी कुर्बानी देनी पड़ेगी, मैं पीछे नहीं हटूंगी'.

गांधी ने किसी का नाम लिये बगैर कहा कि उन्हें आभास है कि आने वाला समय कठिन होगा, लेकिन वह इसके लिए भी तैयार हैं. उन्होंने कहा कि 'मुझे पूरा विश्वास है कि आपके सहयोग और भरोसे के दम पर कांग्रेस पार्टी हर चुनौती का डटकर सामना करेगी'.

सोनिया गांधी ने ये भी कहा कि उन्होंने हमेशा रायबरेली को अपने परिवार की तरह समझा है और बड़े परिवार की तरह उसका खयाल रखने की कोशिश की है.

सोनिया गांधी ने कहा, 'मेरी ज़िंदगी आप सबके सामने एक खुली किताब की तरह रही है. आप मेरे परिवार की तरह हैं. आपसे मुझे हिम्मत मिलती है और यही मेरी पूंजी है'. लोकसभा चुनाव में अपनी जीत के लिए सोनिया ने रायबरेली की जनता के साथ ही, कांग्रेस कार्यकर्ताओं और सभी शुभचिंतकों समेत उन पार्टियों के प्रति भी आभार व्यक्त किया जिन्होंने उनके चुनावी रण जीतने की राह आसान की.

गौरतलब है कि चुनाव आयोग की वेबसाइट के आंकड़ों के मुताबिक सोनिया गांधी ने रायबरेली सीट से भाजपा के दिनेश प्रताप सिंह को 1.67 लाख से ज़्यादा वोटों के अंतर से हराया.
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

यह भी पढ़ें:
राहुल गांधी बोले- कमलनाथ, गहलोत ने पार्टी से ऊपर रखा परिवार, बेटों को टिकट दिलाने पर लगाया जोर
लोकसभा चुनाव में हार के बाद अशोक चव्हाण ने दिया महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...