अपना शहर चुनें

States

किसानों को मनाने की कोशिशें जारी, आज कृषि राज्य मंत्रियों के साथ मीटिंग करेंगे नरेंद्र सिंह तोमर

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (फाइल फोटो)
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (फाइल फोटो)

Farmers Protest: किसानों और सरकार के बीच शनिवार को भी पांचवे दौर की बातचीत बनेतीजा रही थी. इसके बाद नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने किसानों के साथ आंदोलनों में शामिल हुए बुजुर्गों और महिलाओं से घर लौटने की अपील की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2020, 5:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली की सरहदों पर कृषि कानूनों (Farm Laws) का विरोध जारी है. 11वें दिन भी किसी किसान अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं. अब तक सरकार और किसानों के बीच किसी बात पर सहमति नहीं बन पाई है. इसी बीच खबर है केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर आज कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी (Kailash Chaudhary) और पुरुषोत्तम रुपाला (Parshottam Rupala) से मुलाकात करेंगे. किसान संगठनों ने कृषि कानूनों के विरोध में 8 दिसंबर को भारत बंद (Bharat Band) का आह्वान किया है. खास बात है कि दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी समेत कई विपक्षी दलों ने इस बंद को समर्थन देने का फैसला किया है.

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर लगातार रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) और राज्य मंत्री सोम प्रकाश के साथ मिलकर किसानों से चर्चा कर रहे हैं. इसी बीच उन्होंने कृषि राज्य मंत्रियों कैलाश चौधरी और पुरुषोत्तम रुपाला से मुलातात करने का फैसला किया है. तोमर आज दोनों मंत्रियों के साथ मीटिंग करेंगे. किसानों से बात कर रहे तीनों मंत्रियों ने जानकारी दी थी कि किसानों की मांगों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से चर्चा की जाएगी. इसके बाद कैबिनेट कोई फैसला लेगी.

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन: शरद पवार ने सरकार को चेताया- मांगों पर विचार नहीं हुआ तो दिल्ली तक सीमित नहीं रहेगा आंदोलन



बुजुर्गों और महिलाओं से की घर लौटने की अपील
किसानों और सरकार के बीच शनिवार को भी पांचवे दौर की बातचीत बनेतीजा रही थी. इसके बाद तोमर ने किसानों के साथ आंदोलनों में शामिल हुए बुजुर्गों और महिलाओं से घर लौटने की अपील की थी. किसान नेताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था 'मैं अपील करता हूं कि आप शांति से वरिष्ठ नागरिक और बच्चों से प्रदर्शन स्थल से हटकर घर जाने के लिए कहें.' हालांकि, किसान नेताओं ने मंत्री तोमर की इस मांग को अस्वीकार कर दिया था.

विपक्षियों पर पलटवार
किसान आंदोलनों को लेकर तमाम राजनीतिक दल लगातार भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साध रहे हैं. इसे लेकर कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने भी विपक्षियों को आड़े हाथों लिया था. चौधरी ने कहा कि किसानों को नए कानून से फायदा ही होग, लेकिन कांग्रेस की सरकारें उन्हें भड़का रही हैं. इतना ही नहीं उन्होंने विपक्ष पर किसानों को भड़काने के भी आरोप लगाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज