Assembly Banner 2021

BHU में नीता अंबानी के विजिटिंग प्रोफेसर बनने की सभी खबरें झूठी: रिलायंस इंडस्‍ट्रीज

नीता अंबानी के बीएचयू में विजिटर लेक्‍चरर बनने की खबरें झूठी. (Pic- ANI)

नीता अंबानी के बीएचयू में विजिटर लेक्‍चरर बनने की खबरें झूठी. (Pic- ANI)

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) के प्रवक्‍ता ने कहा है कि ये खबरें झूठी हैं. उनका कहना है कि नीता अंबानी (Nita Ambani) को बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BJU) की ओर से वुमन्स स्टडीज सेंटर में विजिटिंग प्रोफेसर का कोई प्रपोजल नहीं भेजा गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 3:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) ने रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी (Nita Ambani) को बनारस हिंदू विश्‍वविद्यालय (BHU) में विजिटिंग प्रोफेसर के तौर पर गेस्‍ट फैकल्‍टी बनाए जाने की खबरों का बुधवार को खंडन किया है. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड के प्रवक्‍ता ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा है कि ये सभी खबरें झूठी हैं. उनका कहना है कि नीता अंबानी को बीएचयू की ओर से ऐसा कोई प्रपोजल नहीं भेजा गया है.

इस मामले में बीएचयू की ओर से जारी की गई प्रेस रिलीज में कहा गया है कि नीता अंबानी को विश्‍वविद्यालय के सामाजिक विज्ञान संकाय के महिला अध्‍ययन केंद्र में विजिटिंग प्रोफेसर बनाए जाने संबंधी खबरें मीडिया में आई थीं. इस बारे में स्‍पष्‍ट किया जाता है कि नीता अंबानी को विश्‍वविद्यालय के किसी भी संकाय /विभाग/केंद्र में विजिटिंग प्रोफसर नियुक्‍त करने या शिक्षण की कोई भी जिम्‍मेदारी देने संबंधी कोई भी आधिकारिक फैसला यूनिवर्सिटी प्रशासन ने नहीं लिया है. न ही ऐसा कोई प्रशासनिक आदेश जारी किया गया है. इस मामले में न तो कोई मंजूरी दी गई है और न ही इस प्रकार का कोई प्रस्‍ताव सक्षम प्राधिकारी के पास विचार के लिए पेश किया गया है.

पिछले कुछ दिनों से मीडिया में ऐसी खबरें प्रसारित की जा रही थीं कि रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी को बीएचयू ने विजिटिंग प्रोफेसर के तौर पर प्रपोजल भेजा है. अब कंपनी की ओर से बयान जारी कर इन सभी खबरों को निराधार बताया गया है.





हाल ही में रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने महिलाओं को सशक्त बनाने के उद्देश्य से एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म 'हर सर्किल' पेश किया है. उन्होंने कहा था कि ‘हर सर्किल’ को महिलाओं से जुड़ी सामग्रियों के लिए विशेष रूप से तैयार किया गया है.

उन्होंने कहा था कि यह अपनी तरह का पहला डिजिटल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म है, जिसका उद्देश्य महिलाओं का सशक्तिकरण और वैश्विक स्तर पर महिलाओं के उत्थान के लिए काम करना है. सहभागिता, नेटवर्किंग और आपसी सहयोग के लिए ‘हर सर्किल’ प्लेटफॉर्म महिलाओं को एक सुरक्षित माध्यम प्रदान करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज