लाइव टीवी

सेना प्रमुख बनने के बाद पहली बार कश्मीर पहुंचे जनरल नरवणे, कहा- किसी भी चुनौती के लिए तैयार रहें सैनिक

News18Hindi
Updated: February 26, 2020, 9:41 PM IST
सेना प्रमुख बनने के बाद पहली बार कश्मीर पहुंचे जनरल नरवणे, कहा- किसी भी चुनौती के लिए तैयार रहें सैनिक
सेना प्रमुख बनने के बाद मंगलवार को पहली बार कश्मीर दौरे पर पहुंचे. (File Photo)

सेना प्रमुख बनने के बाद मंगलवार को पहली बार कश्मीर दौरे पर पहुंचे जनरल नरवणे (Army Chief General MM Narvane) ने नियंत्रण रेखा के पास सुरक्षा बलों की तैनाती का जायजा लिया और इकाइयों का दौरा किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2020, 9:41 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (Army Chief General MM Narvane) ने बुधवार को कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) में नियंत्रण रेखा (Line of Control) के पास तैनात सैनिकों से सतर्क रहने और सुरक्षा की किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा. सेना प्रमुख बनने के बाद मंगलवार को पहली बार कश्मीर दौरे पर पहुंचे जनरल नरवणे ने नियंत्रण रेखा के पास सुरक्षा बलों की तैनाती का जायजा लिया और इकाइयों का दौरा किया.

रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘नियंत्रण रेखा पर स्थिति, संघर्ष विराम उल्लंघन, हमारी जवाबी कार्रवाई, घुसपैठ निरोधक अभियान और संचालन तैयारियों के बारे में स्थानीय कमांडरों ने सेना प्रमुख को जानकारी दी.’’

चुनौतियों का सामना करने के लिए रहें तैयार
सेना प्रमुख के साथ सेना के उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी (YK Joshi) और चिनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों (KJS Dhillon) भी थे. उन्होंने सैनिकों से कहा कि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सतर्क रहें और सुरक्षा चुनौतियों का सामना करने के लिए हर समय तैयार रहें.



प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ऊंचे क्षेत्रों में तैनात सैनिकों के साथ बातचीत में जनरल नरवणे ने नियंत्रण रेखा पर सैनिकों की निगरानी और उनके द्वारा बरती जा रही सतर्कता की प्रशंसा की.’’

अधिकारियों और सुरक्षाबलों से मिले सेनाप्रमुख
सेना प्रमुख को इससे पहले चिनार कोर के कमांडर ने बादामी बाग कैंट में नियंत्रण रेखा और दूरवर्ती क्षेत्रों के इलाकों की स्थिति से अवगत कराया. जनरल नरवणे ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों और सुरक्षा बलों से भी बातचीत की.

ये भी पढ़ें-
बार-बार कहने की जरूरत नहीं कि विरोध के अधिकार हैं सड़क बाधित करने के नहीं: SC

UNHRC में पाक को मिला जवाब: J&K भारत का अभिन्न हिस्सा था, है और हमेशा रहेगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2020, 9:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर