उमर अब्दुल्ला ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- आर्टिकल 370 और 35ए का हटाया जाना जम्मू-कश्मीर के लिए सबसे बड़ी भूल

अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद उमर अब्दुल्लाह को नजरबंद कर दिया गया था. (फोटो:ANI/Twitter)
अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद उमर अब्दुल्लाह को नजरबंद कर दिया गया था. (फोटो:ANI/Twitter)

आर्टिकल हटाए जाने के बाद से ही पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) को नजरबंद कर दिया गया था. उनके साथ नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डॉक्टर फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) को भी नजरबंद किया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 6:19 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला ने शुक्रवार को आर्टिकल 370 और 35ए (Article 370 & 35A) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर निशाना साधा. एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने बीजेपी का नाम लिए बगैर कहा कि यह जम्मू-कश्मीर के लिए उठाया गया सबसे गलत कदम है और सबसे बड़ी भूल है. एक दिन पहले भी अब्दुल्ला ने ट्वीट के जरिए अपनी हिरासत का जिक्र करते हुए रूलिंग पार्टी पर आरोप लगा थे.

स्थिति और बिगड़ने के लगाए आरोप
आर्टिकल हटाए जाने के बाद से ही पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला को नजरबंद कर दिया गया था. उनके साथ नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डॉक्टर फारूक अब्दुल्ला को भी नजरबंद किया गया था. कार्यक्रम के दौरान अब्दुल्ला ने मंच से कहा, 'वे कहते थे कि आर्टिकल 370 और 35ए हटाने से भारतीय प्रशासन से अलग रह रहे लोग पूरी तरह देश के साथ शामिल हो जाएंगे. लेकिन मैं उन्हें यह भरोसे के साथ कहना चाहूंगा कि ऐसा करने से लोग पहले से भी ज्यादा अलग-थलग हो गए हैं.'

'हम हमारी जमीन पर ही सुरक्षित नहीं हैं'
संबोधन के दौरान उन्होंने क्षेत्र में विकास कार्यों पर भी सवाल उठाए. उमर ने कहा, 'कहा हैं विकास कार्य? ऐसे कामों के शुरू होने के लिए एक साल तीन महीने का वक्त काफी होता है.' उन्होंने कहा, 'हम हमेशा यही कहेंगे कि इस गलत धारणा में न रहें कि आर्टिकल 370 और 35ए का हटाया जाना सारी परेशानियों को दूर कर देगा. यह जम्मू-कश्मीर के लिए उठाया गया सबसे गलत कदम है.' उन्होंने बोला 'हम हमारी जमीनों पर सुरक्षित नहीं हैं.'



यह भाजपा का नहीं गांधी का भारत है: फारूक अब्दुल्ला
कार्यक्रम में पहुंचे फारूक अब्दुल्ला ने भी भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधा. फारूक ने कहा 'अगर जम्मू-कश्मीर पाकिस्तान जाना चाहता, तो उन्होंने यह 1947 में ही कर लिया होता. कोई उन्हें नहीं रोक सकता था.' उन्होंने कहा, 'हमारा देश महात्मा गांधी का देश है, न कि बीजेपी का भारत.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज