• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • भारत-पाकिस्तान के बीच हुआ परमाणु युद्ध तो मारे जाएंगे 10 करोड़ लोग: रिपोर्ट

भारत-पाकिस्तान के बीच हुआ परमाणु युद्ध तो मारे जाएंगे 10 करोड़ लोग: रिपोर्ट

भारत-पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध हुआ तो 10 करोड़ लोग मारे जाएंगे

भारत-पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध हुआ तो 10 करोड़ लोग मारे जाएंगे

साइंस एडवांस (Science advance) में प्रकाशित इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत और पाकिस्तान के बीच अगर परमाणु युद्ध (Nuclear Attack) की स्थिति बनती है तो दोनों ही देशों को काफी बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) से आर्टिकल 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बना हुआ है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कई बार भारत को परमाणु हमले (Nuclear Attack) की धमकी तक दे दी है. पाकिस्तान की गीदड़भभकी का जवाब देते हुए भारत ने भी साफ कर दिया है कि अगर पाकिस्तान किसी भी तरह का दुस्साहस करने की कोशिश करता है, तो उसे बख्शा नहीं जाएगा. दोनों देशों के बीच पिछले कुछ समय से चले आ रहे तनाव के बीच अमेरिका (America) की एक रिपोर्ट (Report) ने काफी डराने वाले आंकड़े पेश किए हैं. इस रिपोर्ट में कहा गया है अगर भारत और पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध होता है तो 10 करोड़ से अधिक लोग मारे जाएंगे.

    'साइंस एडवांस' में प्रकाशित इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत और पाकिस्तान के बीच अगर परमाणु युद्ध की स्थिति बनती है, तो दोनों ही देशों को काफी बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है. रटगर्स यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एलन रोबॉक और अन्य वैज्ञानिकों के मुताबिक युद्ध के दौरान जो नुकसान होगा, उसके बारे में तो सभी जानते हैं; लेकिन युद्ध के बाद भी लाखों लोग मारे जाते रहेंगे.

    वैज्ञानिकों के मुताबिक दोनों देशों के बीच परमाणु युद्ध की स्थिति में पृथ्वी पर पहुंचने वाली सूरज की रोशनी की मात्रा में काफी कमी आ जाएगी, जिसकी वजह से बारिश में भी गिरावट आएगी. इन सबका सीधा असर जमीन पर पड़ेगा और खेती तबाह हो जाएगी और महासागरीय उत्पादकता में भयानक गिरावट आएगी.

    Jammu and Kashmir, article 370, India, Pakistan, nuclear attack, Imran Khan, US, report,
    शोधकर्ताओं के मुताबिक भारत और पाकिस्तान के पास 400-500 परमाणु हथियार मौजूद हैं.


    शोधकर्ताओं के मुताबिक, भारत और पाकिस्तान के पास 400-500 परमाणु हथियार मौजूद हैं. युद्ध की स्थिति में अगर इन हथियारों का इस्तेमाल किया गया, तो इसका प्रभाव वैश्विक पर्यावरण के लिए विनाशकारी होगा. रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण एशिया पर परमाणु युद्ध का प्रभाव तीन तरह से होगा.

    इसे भी पढ़ें :- पाक को तंगहाली से निकालने के लिए इमरान खान अब चीन के सामने फैलाएंगे झोली

    पहला-- परमाणु युद्ध की स्थति में विस्फोटो से निकलने वाला धुआं 16 से 36 मिलियन टन काला कार्बन छोड़ सकता है. इस कार्बन की तीव्रता इतनी तेज होगी कि कुछ ही हफ्तों में दुनिया भर में इसका असर देखने को मिलेगा. ऐसी स्थिति में जिन देशों का इस युद्ध से कोई लेना-देना नहीं है, वहां भी लोगों को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.

    दूसरा-- परमाणु विस्फोट के बाद वायुमंडल में कार्बन भारी मात्रा में सोलर रेडिएशन को इकट्ठा कर लेगी. इससे हवा में अधिक गर्मी आ जाएगी और धुंआ आगे नहीं निकल पाएगा. इसके परिणाम ये होगा कि पृथ्वी तक पहुंचने वाली धूप में 20 से 35 प्रतिशत की गिरावट आएगी. इसके कारण बारिश में कम होगी.

    तीसरा-- वायुमंडल में कार्बन की मात्रा बढ़ जाने के कारण सूरज की रोशनी जमीन तक नहीं पहुंचेगी और बारिश भी न के बराबर होगी. ऐसे में गर्मी की तपिश से जमीन सूख जाएगी और खेती पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगी. इस वजह से वनस्पति विकास और महासागर उत्पादकता पर गंभीर प्रभाव पड़ेगा.

    इसे भी पढ़ें :- अक्टूबर की शुरुआत पाकिस्तानियों पर पड़ी भारी! लगा 5600 करोड़ रुपये का झटका

    10 साल का समय लेगगा इसके प्रभाव से उबरने में
    इस रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने बताया है कि अगर भारत और पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध होता है तो जिस तरह के परिणाम होंगे, उससे उबरने में दुनिया को 10 साल से ज्यादा का समय लगेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज