India-China Clash: हिंसक झड़प में चीनी सेना के कमांडिंग अफसर की मौत, 40 से ज्यादा हताहत- ANI

India-China Clash: हिंसक झड़प में चीनी सेना के कमांडिंग अफसर की मौत, 40 से ज्यादा हताहत- ANI
लद्दाख में 14 हजार फीट ऊंची गलवान घाटी में LAC पर ये झड़प 3 घंटे चली. (PTI)

India-China Clash: लद्दाख में 14 हजार फीट ऊंची गलवान घाटी में LAC पर ये झड़प 3 घंटे चली. यह अफसर उसी चीनी यूनिट का था, जिसने भारतीय जवानों के साथ हिंसक झड़प की शुरुआत की थी.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और चीन (India-China Clash) के सैनिकों के बीच लद्दाख के गलवान घाटी (Galwan Valley) में हुई झड़प का मामला बढ़ गया है. न्यूज एजेंसी ANI ने बुधवार को सूत्रों के हवाले से बताया कि इस झड़प में चीन के 40 से ज्यादा सैनिक हताहत हुए हैं. इनमें यूनिट का कमांडिंग अफसर भी शामिल है. यह अफसर उसी चीनी यूनिट का था, जिसने भारतीय जवानों के साथ हिंसक झड़प की शुरुआत की थी. हालांकि, चीन की तरफ से अभी तक इसपर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

गलवान घाटी में 15-16 जून की दरमियानी रात को हुई झड़प में भारत के कमांडिंग अफसर समेत 20 जवान शहीद हो गए थे. 4 जवानों की हालत नाजुक बनी हुई है. लद्दाख में 14 हजार फीट ऊंची गलवान घाटी में LAC पर ये झड़प 3 घंटे चली. यह हमला पत्थरों, लाठियों और धारदार चीजों से किया गया. इसी गलवान में 1962 की जंग में 33 भारतीयों की जान गई थी.

मंगलवार को ही इस घटना के बाद दिल्ली में बैठकों का दौर चला. पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत समेत तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ बैठक की. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट की बैठक हुई. जिसमें प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और वित्त मंत्री शामिल हुए.





रक्षामंत्री राजनाथ सिंह बुधवार को एक बार फिर से चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ और तीनों सेना प्रमुखों के साथ मीटिंग कर रहे हैं. माना जा रहा है कि इस मीटिंग के बाद रक्षा मंत्रालय की ओर से ऑफिशियल स्टेटमेंट जारी किया जा सकता है. वहीं, सरकार आज 20 शहीदों के नाम भी जारी करने वाली है.

ऐसी बर्बर झड़प आधुनिक सेनाओं के हाल-फिहलाल के इतिहास में बेहद कम हैं. चीनी सेना के इस बर्बर हमले में अब तक 23 भारतीय सैनिकों ने जान गंवाई है. इनमें 16बिहार रेजीमेंट के कमांडिंग अफसर कर्नल संतोष बाबू भी शामिल हैं. माना जा रहा है कि कई घायल सैनिकों की मौत शून्य से काफी कम तापमान में लगातार बने रहने के कारण हुई.

ये भी पढ़ें:- लाठी-डंडों और पत्थरों से ही क्यों लड़ते हैं भारत-चीन के सैनिक, गोली क्यों नहीं चलाते

चीन के साथ सीमा विवाद के बाद क्या अब व्यापार को लेकर कदम उठाएगी सरकार?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading