अपना शहर चुनें

States

Republic Day 2021: भारतीय वायुसेना रचेगी इतिहास, पहली बार महिला फाइटर पायलट बनेंगी परेड का हिस्सा

भावना कंठ (फाइल फोटो (NEWS18)
भावना कंठ (फाइल फोटो (NEWS18)

भारतीय वायुसेना (IAF) ने जानकारी दी है कि गणतंत्र दिवस की परेड (Republic Day Parade) में महिला फाइटर पायलट भावना कंठ (Bhawana Kanth) शामिल होंगी. इसके साथ ही हल्का लड़ाकू विमान (LCA) तेजस और स्वदेशी तौर पर विकसित एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल ध्रुवस्त्र के मॉडल झांकी में शामिल होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 9:59 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ (Bhawana Kanth) इस साल गणतंत्र दिवस परेड (Republic Day 2021) का हिस्सा होंगी. वह 26 जनवरी को हिस्सा लेने वाली पहली महिला फाइटर पायलट बनेंगी. भारतीय वायु सेना की झांकी का एक हिस्सा होगा जो हल्के लड़ाकू विमानों, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर और सुखोई -30 लड़ाकू विमान का मॉक-अप प्रदर्शित करेगा. वह फिलहाल में राजस्थान के एक एयरबेस में तैनात हैं, जहां मिग -21 बाइसन लड़ाकू विमान उड़ाती हैं.

कंठ भारतीय वायुसेना में पहली महिला लड़ाकू पायलटों में से एक है. अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह के साथ, उन्हें साल 2016 में पहली महिला लड़ाकू पायलट के रूप में भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था. साल 2015 में भारतीय वायुसेना की कॉम्बैट स्ट्रीम में शामिल होने के लिए एक एक्सपेरिमेंटल स्कीम के बाद दस महिलाओं को लड़ाकू पायलट के रूप में कमीशन किया गया था.

बिहार के दरभंगा से ताल्लुक रखने वाली भावना कंठ का जन्म बेगूसराय में हुआ, जहां उनके पिता IOCL में इंजीनियर थे. उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा बरौनी रिफाइनरी डीएवी पब्लिक स्कूल से की और बेंगलुरु के बीएमएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से मेडिकल इलेक्ट्रॉनिक्स में इंजीनियरिंग की स्नातक की पढ़ाई पूरी की.



राफेल भी होगा 26 जनवरी की परेड में शामिल
वहीं भारतीय वायुसेना ने कहा कि इस बार 26 जनवरी की परेड में राफेल लड़ाकू विमान शामिल होगा और फ्लाईपास्ट का समापन इस विमान के ‘वर्टिकल चार्ली फार्मेशन’ में उड़ान भरने से होगा. वर्टिकल चार्ली फार्मेशन’ में विमान कम ऊंचाई पर उड़ान भरता है, सीधे ऊपर जाता है और उसके बाद कलाबाजी खाते हुए एक ऊंचाई पर स्थिर हो जाता है.

वायुसेना प्रवक्ता विंग कमांडर इंद्रनील नंदी ने कहा, ‘फ्लाईपास्ट का समापन एक राफेल विमान के ‘वर्टिकल चार्ली फार्मेशन’ से होगा.’ भारत की वायुशक्ति क्षमताओं में तब बढ़ोतरी हुई थी जब गत वर्ष 10 सितम्बर को फ्रांस निर्मित पांच बहुद्देश्यीय राफेल लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना में शामिल किये गए थे. नंदी ने बताया कि 26 जनवरी को फ्लाईपास्ट में वायुसेना के कुल 38 विमान और भारतीय थल सेना के चार विमान शामिल होंगे.

प्रवक्ता ने कहा कि फ्लाईपास्ट पारंपरिक तौर पर दो खंडों में विभाजित होगा - पहला खंड परेड के साथ सुबह 10.04 बजे से लेकर सुबह 10.20 बजे तक और दूसरा खंड परेड के बाद सुबह 11.20 बजे से सुबह 11.45 बजे तक होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज