अपना शहर चुनें

States

कश्मीर में शांतिपूर्ण तरीके से मनाया गया गणतंत्र दिवस, मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवा बहाल

कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई हैं. (फाइल फोटो)
कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई हैं. (फाइल फोटो)

Jammu Kashmir: कश्मीर में कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार को 72वां गणतंत्र दिवस मनाया गया और (कश्मीर) घाटी में मुख्य कार्यक्रम ‘शेर-ए-कश्मीर क्रिकेट स्टेडियम’ में आयोजित किया गया.

  • Last Updated: January 27, 2021, 6:26 AM IST
  • Share this:
श्रीनगर. कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) में गणतंत्र दिवस समारोह (Republic Day Parade) के शांतिपूर्ण आयोजन के लिए एहतियात के तौर पर मंगलवार को 12 घंटे से अधिक समय तक मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवा अस्थायी तौर पर निलंबित कर दी गई थी. गणतंत्र दिवस समारोह शांतिपूर्ण संपन्न होने के बाद यह सेवा अब बहाल कर दी गई. हालांकि इस दौरान मोबाइल फोन सेवा जारी थी.

अधिकारियों ने बताया, ‘‘घाटी में मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई है. गणतंत्र दिवस का समारोह शांतिपूर्ण तरीके से सुनिश्चित करने के लिए मोबाइल इंटरनेट टेलिफोन सेवा अस्थायी तौर पर निलंबित कर दी गई.’’ घाटी में 2005 से गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इंटरनेट सेवा और मोबाइल फोन सेवा को निलंबित करना सुरक्षा तैयारी का हिस्सा है. दरअसल 2005 में स्वतंत्रता दिवस समारोह स्थल के निकट आईईडी विस्फोट करने के लिए आतंकवादियों ने मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया था.

ये भी पढ़ें- धर्म परिवर्तन की सूचना पर हिंदूवादी संगठन ने चर्च पहुंचकर किया हंगामा और बवाल




कश्मीर में कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार को 72वां गणतंत्र दिवस मनाया गया और (कश्मीर) घाटी में मुख्य कार्यक्रम ‘शेर-ए-कश्मीर क्रिकेट स्टेडियम’ में आयोजित किया गया. केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के उप राज्यपाल के सलाहकार बशीर खान ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की. खान ने राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद परेड की सलामी ली.

हाड़ कंपा देने वाली ठंड की परवाह नहीं करते हुए पुलिस और सुरक्षा बलों की टुकड़ियों ने परेड में हिस्सा लिया और खान को ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ दिया गया.

अधिकारियों ने बताया कि गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने जा रहे सुरक्षा बल के एक जवान संभवत: ठंड लगने के चलते बेहोश हो गये. वह शेर-ए-कश्मीर मैदान में उस समय परेड शुरू होने की प्रतीक्षा कर रहे थे. जवान की पहचान जाहिर नहीं की गई है. उन्हें निकट के एक अस्पताल में ले जाया गया. उनके स्वास्थ्य में सुधार आने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. परेड के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया.

अधिकारियों ने बताया कि घाटी के अन्य जिला मुख्यालयों और तहसीलों में भी इस अवसर पर कार्यक्रमों का आयोजन हुआ. किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज