Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    कांग्रेस में फिर होने वाले हैं बड़े बदलाव, बस बिहार चुनाव पूरे होने का है इंतजार

    कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के कामों में मदद के लिए पांच सदस्यीय विशेष टीम गठित की है.
    कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के कामों में मदद के लिए पांच सदस्यीय विशेष टीम गठित की है.

    उम्मीद की जा रही है कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress president Sonia Gandhi) एक बार फिर कांग्रेस (Congress) में बड़े बदलाव कर सकती हैं. इससे पहले सितंबर में भी पार्टी के अंदर बड़े फेरबदल किए गए थे.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 21, 2020, 7:53 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. सितंबर में उथल-पुथल के दौर से गुजर चुकी देश की बड़ी पार्टी कांग्रेस में एक बार फिर बड़े फेरबदल होने की संभावना है. उम्मीद की जा रही है कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी बिहार चुनाव के बाद जल्द ही संगठनात्मक बदलाव कर सकती हैं. सोनिया ने इसके लिए पांच सदस्यीय टीम भी गठित की है, जो उनकी रोज के काम और पार्टी की सेंट्रल इलेक्शन अथॉरिटी (Central Election Authority) को फिर से गठित करने में मदद करेगी.

    जल्द भरे जा सकते हैं रिक्त पद
    गौरतलब है कि सितंबर में पार्टी अध्यक्ष ने कांग्रेस वर्किंग कमेटी (Congress Working Committee) में बड़े स्तर पर फेरबदल किए थे, जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) और मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) को महासचिव पद से हटाया गया था. अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में पार्टी के एक पदाधिकारी के हवाले से बताया कि फिलहाल दो राज्यों में प्रभारियों के पद खाली हैं. उन्होंने कहा 'दिल्ली और गोवा राज्यों में नए प्रभारियों की नियुक्ती की संभावना है.' क्योंकि शक्तिसिन्हा गोहिल (Shaktisinh Gohil) बिहार और दिल्ली के प्रभारी हैं, जबकि दिनेश गुंडू राव (Dinesh Gundu Rao) के पास तमिलनाडू, पुडुचेरी और गोवा का प्रभार है.

    अखबार के मुताबिक, पदाधिकारी ने बताया कि पार्टी के किसान सेल के प्रमुख नाना पटोले (Nana Patole) महाराष्ट्र विधानसभा में स्पीकर हैं और ओबीसी विभाग के चेयरमैन ताम्रध्वज साहू (Tamradhwaj Sahu) छत्तीसगढ़ सरकार में गृह मंत्री हैं. इसके अलावा अनुसूचित जाति विभाग के प्रमुख नितिन राउत (Nitin Raut) महाराष्ट्र सरकार में ऊर्जा मंत्री हैं और पार्टी के संचार विभाग के चेयरमैन रणदीप सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) को महासचिव बनाया गया है और उन्हें कर्नाटक का प्रभार भी दिया गया है. पदाधिकारी ने कहा 'यह सभी रिक्त पद जल्द ही भर जाएंगी.'
    कौन होंगे सोनिया के मददगार


    संगठन के काम में सोनिया के मददगारों की सूची में एके एंटनी (AK Antony), अहमद पटेल (Ahmed Patel), अंबिका सोनी (Ambika Soni), केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal), मुकुल वासनिक (Mukul Wasnik) और रणदीप सिंह सुरजेवाला का नाम शामिल है. इसके अलावा पांच सदस्यीय सीईए टीम में राजेश मिश्रा (Rajesh Mishra), कृष्ण बायर गौड़ा (Krishna Byre Gowda), एस जोथीमणी (S Jothimani) और अरविंदर सिंह लवली (Aravinder Singh Lovely) का नाम है. इस टीम के प्रमुख मधुसुधन मिस्त्री (Madhusudan Mistry) होंगे.



    आगामी चुनावों वाले राज्यों पर रहेगा ज्यादा फोकस
    पदाधिकारी ने आगे बताया कि कांग्रेस हाईकमान अपना ध्यान आगामी चुनाव वाले राज्यों पर फोकस करेंगे. इनमें से कई राज्यों में नए प्रमुखों की नियुक्ती की जाएगी. बीते माह कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhary) को पश्चिम बंगाल का प्रमुख बनाया गया है. बंगाल के साथ अगले साल अप्रैल-मई में असम, तमिलनाडू, केरल और पुडुचेरी में भी विधानसभा चुनाव होंगे. इसके बाद साल 2022 में उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर, गुजरात और हिमाचल प्रदेश में भी इलेक्शन होने हैं. इसके अलावा ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (All India Congress Committee) के 56 सचिवों में भी बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा.

    पार्टी पदाधिकारी ने कहा कि किसी भी चुनाव में उम्मीदवार तय करने वाली पैनल सीईसी में बदलाव का काम बिहार चुनाव के कारण रोक दिया गया था, लेकिन चुनाव के बाद इसे भी शुरू किया जाएगा.

    इन राज्यों में नियुक्त हुए थे नए कांग्रेस प्रभारी
    दिनेश गुंडु राव (तमिलनाडू, पुडुचेरी और गोवा), मनिकम टैगोर (तेलंगाना), विवेक बंसल (हरियाणा), राजीव शुक्ला (हिमाचल प्रदेश), एचके पाटिल (महाराष्ट्र), देवेंद्र यादव (उत्तराखंड), मनीष चतरथ (अरुणाचल प्रदेश और मेघालय), भक्त चरण दास (मिजोरम और मणिपुर), कुलजीत सिंह नागरा (सिक्किम, नागालैंड और त्रिपुरा).
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज