Home /News /nation /

नेटवर्क-18 ट्विटर पोल: 50% लोग अब भी चाहते हैं दो हफ्ते और बढ़ाया जाए लॉकडाउन 2.0

नेटवर्क-18 ट्विटर पोल: 50% लोग अब भी चाहते हैं दो हफ्ते और बढ़ाया जाए लॉकडाउन 2.0

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी.

लॉकडाउन 2.0: लोग मानते हैं कि देश में कोरोना के केस लगातार सामने आ रहे हैं. ऐसे में अभी लॉकडाउन खोलने से सड़कों पर ज्यादा लोग उतर सकते हैं, जो गंभीर हो सकता है.

    नई दिल्ली. कोरोना के कारण देश में लगा लॉकडाउन 2.0, तीन मई को खत्म हो रहा है. लेकिन हालात अभी भी बेहतर नहीं हैं. कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 30 हजार के पार निकल चुकी है. ऐसे में लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल यही है कि क्या लॉकडाउन 3 मई के बाद भी जारी रहेगा. इसको लेकर Network 18 ने ट्विटर पर एक पोल किया. जिसमें हिस्सा लेने वाले 50 फीसदी लोग अब भी लॉकडाउन को दो हफ्ते या अगले एक और महीने तक बढ़ाने के पक्ष में हैं.

    क्या पूछा गया सवाल?

    क्या देश में लॉकडाउन और बढ़ाया जाना चाहिए?
    A. दो हफ्ते
    B. एक महीने
    C. जब तक नए केस आने न बंद हों
    D. लोकल लॉकडाउन

    लोगों ने क्या कहा?
    - 50 प्रतिशत लोगों ने कहा लॉकडाउन को दो हफ्ते से लेकर एक महीने तक बढ़ा दिया जाए
    - 25 फीसदी लोगों ने कहा केवल लोकल लॉकडाउन हो
    - 25 फीसदी लोगों ने कहा जब नए केस आने बंद न हों, तब तक लॉकडाउन हो

    9 भाषाओं में कराया गया पोल
    Network18 की ओर से इस पोल पर 13 भाषाओं में 26 ट्विटर अकाउंट्स पर राय मांगी गई. जिसमें CNN-News18, न्यूज़18 इंडिया, न्यूज़18 languages, CNBC-TV18 और मनीकंट्रोल के 22 ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया गया. आपको बता दें कि लॉकडाउन को लेकर यह अब तक का सबसे बड़ा सर्वे है. हमने ये पोल 29 अप्रैल को किया, जिसमें ट्विटर के माध्यम से 29 हजार से अधिक लोगों ने अपनी राय रखी. इससे पहले लॉकडाउन वन के दौरान भी हमने 9 अप्रैल से लेकर 10 अप्रैल तक एक पोल किया था, जिसमें 80 प्रतिशत लोगों ने लॉकडाउन न हटाए जाने की वकालत की थी.

    Tags: Corona Days, Corona Virus, Lockdown, Lockdownextention, Network 18

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर