Rhea Chakraborty Arrest: ये हैं ठोस वजहें, जिनके आधार पर कोर्ट ने रिया को 14 दिन के लिए भेजा न्यायिक हिरासत में

Rhea Chakraborty Arrest: ये हैं ठोस वजहें, जिनके आधार पर कोर्ट ने रिया को 14 दिन के लिए भेजा न्यायिक हिरासत में
रिया चक्रवर्ती को 14 दिन जेल में रहना होगा (File Photo)

Rhea Chakraborty Arrest: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में एनसीबी ने रिया को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लिया है. रिया चक्रवर्ती 22 सितंबर तक जेल में बंद रहेंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 1:01 AM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत की मौत (Sushant Singh Rajput Death Case) के ड्रग्स से जुड़े केस में एनसीबी (NCB) ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है. एनसीबी को रिया की न्यायिक हिरासत मिल गई है. रिया को 14 दिन के लिए 22 सितंबर तक जेल में रहना होगा. रिया को मंगलवार की रात को एनसीबी के दफ्तर में ही रखा गया. बुधवार को उन्हें जेल भेज दिया जाएगा. बुधवार को रिया के वकील जमानत के लिए ऊपरी अदालत का दरवाजा खटखटा सकते हैं.

इस मामले में एनसीबी ने जो रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के लिए न्यायिक हिरासत मांगी है उसका आधार रिया, शौविक चक्रवर्ती, दीपेश सांवत, सैम्युअल मिरांडा का बयान है. एनसीबी का कहना है कि ये सिर्फ शुरुआती जांच है. ऐसे में इस वक्त आरोपियों के बयान पर ही काम होगा. इसमें कुछ गलत नहीं है. बयान में चारों लोगों ने सुशांत के शामिल होने की बात कही है.

एनसीबी को मिली जानकारी के मुताबिक शौविक ड्रग्स खरीदने के लिए ड्रग बेचने वालों को मैनेज करता था. पूछताछ में पता चला है कि शौविक के कहने पर ड्रग सप्लाई होता था जिसका इस्तेमाल सुशांत करता था. पूछताछ में ये भी पता चला है कि सुशांत भी ड्रग्स खरीदने में शामिल था. पूछताछ में पता चला है कि रिया सुशांत के लिए ड्रग्स खरीदती थी. यह भी मालूम हुआ है कि कैसा ड्रग्स चाहिए ये भी रिया ही बताती थी. रिया और सुशांत मिलकर ड्रग्स का पेमेंट करते थे.



ये भी पढ़ें- रिया चक्रवर्ती को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया, जमानत अर्जी खारिज
रिया और सुशांत दोनों खरीदते थे ड्रग्स
सैम्युअल मिरांडा के मुताबिक रिया और सुशांत दोनों ड्रग खरीदते थे और दोनों पेमेंट करते थे. एनसीबी ने इस बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं दी है कि रिया, शौविक और सुशांत ड्रग्स इस्तेमाल करने के लिए ड्रग्स लेते थे या ड्रग्स के कारोबार में लिप्त थे.



यहां फंस रहा है पेंच
इस केस में अब तक जो पहलू सामने आए हैं उनके हिसाब से इस तरह की जांच रिया से शुरू होकर ड्रग्स कारोबारी तक जानी चाहिए थी. लेकिन इस केस में इसका उल्टा हो रहा है. एनसीबी ने 28 अगस्त को अब्बास नाम के आदमी को 46 ग्राम गांजा के साथ पकड़ा था. अब्बास के बयान पर कई लोगों को पकड़ा गया और वह तार रिया और सुशांत तक पहुंच गए.

गौरतलब है कि सुशांत का शव बीते 14 जून को मुंबई के बांद्रा इलाके स्थित उनके फ्लैट में मिला था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज