• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • रिम्स में जूनियर डॉक्टरों ने किया रोगी के परिजनों से मारपीट के बाद कार्य बहिष्कार

रिम्स में जूनियर डॉक्टरों ने किया रोगी के परिजनों से मारपीट के बाद कार्य बहिष्कार

जूनियर डॉक्टर्स के कार्य बहिष्कार के बाद रिम्स के बाहर का दृश्य

जूनियर डॉक्टर्स के कार्य बहिष्कार के बाद रिम्स के बाहर का दृश्य

रिम्स के इमरजेंसी में जूनियर डॉक्टरों और रोगी के परिजनों के बीच मारपीट की घटना हुई. मारपीट के बाद फिर एक बार जूनियर डॉक्टरों ने कार्य बहिष्कार कर दिया. जूनियर डॉक्टर रिम्स की इमरजेंसी में भर्ती दर्जनों मरीजों को भगवान भरोसे छोड़ गए.

  • Share this:
रिम्स के इमरजेंसी में जूनियर डॉक्टरों और रोगी के परिजनों के बीच मारपीट की घटना हुई. मारपीट के बाद फिर एक बार जूनियर डॉक्टरों ने कार्य बहिष्कार कर दिया. जूनियर डॉक्टर रिम्स की इमरजेंसी में भर्ती दर्जनों मरीजों को भगवान भरोसे छोड़ गए. इमरजेंसी सहित कई जगहों पर डॉक्टर की जगह सिर्फ नर्से हैं . दो महीने के भीतर सुरक्षा की मांग को लेकर दूसरी बार जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल हुई है.

रिम्स की इमरजेंसी में भर्ती एक रोगी के परिजनों और जूनियर डॉक्टरों के बीच मारपीट की घटना के बाद एक बार फिर अस्पताल के बैकबोन कहे जाने वाले जूनियर डॉक्टरों ने रोगियों का इलाज करना छोड़ दिया. रिम्स इमरजेंसी में कई ऐसे मरीज की जान संकट में फंसी है, जो गंभीर अवस्था में वहां लाए गए थे. वहीं आज चार बजे के बाद से दर्जनों रोगियों को बैरंग रिम्स से लौटा दिया गया.

दर्जनों रोगियों का रिम्स से बैरंग वापस लौटाने के पीछे रिम्स में सुरक्षा की कमी को बताते हुए जूनियर डॉक्टरों ने कहा कि उन्होंने कार्य बहिष्कार नहीं किया है बल्कि रोगियों के परिजनों के आक्रामक तेवर के चलते डर से इमरजेंसी सहित कई सेवाओं से अलग हो गए हैं. डॉक्टरों ने दोहराया कि सुरक्षा व्यवस्था बहाल होने ना होने तक वह काम पर नहीं लौटेंगे.

 

 

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज