महाराष्ट्र में बढ़े कोरोना केस, 24 घंटे में 34031 नए मामले, 594 लोगों की मौत

मंगलवार के मुकाबले बुधवार को नए मरीजों की संख्या बढ़ी है. (फाइल फोटो)

मंगलवार के मुकाबले बुधवार को नए मरीजों की संख्या बढ़ी है. (फाइल फोटो)

बीते 24 घंटे के दौरान महाराष्ट्र (Maharashtra) में 34 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. वहीं 594 लोगों ने महामारी से जान गंवाई है. कल के मुकाबले आज राज्य में ज्यादा मामले आए सामने आए हैं. कल पूरे राज्य में 28438 मामले सामने आए थे.

  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में बुधवार को बुधवार को कोरोना के नए मामलों (New Covid Cases) में वृद्धि देखी गई. बीते 24 घंटे के दौरान राज्य में 34 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. वहीं 594 लोगों ने महामारी से जान गंवाई है. कल के मुकाबले आज राज्य में ज्यादा मामले आए सामने आए हैं. कल पूरे राज्य में 28438 मामले सामने आए थे.

बुधवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 51457 लोग डिस्चार्ज होकर घर लौट गए. राज्य में अब तक कोरोना से कुल 84371 लोगों की हो मौत चुकी है. वहीं राजधानी मुंबई में 24 घंटे में 1350 कोरोना के नए मामले आए सामने, जबकि 57 की मौत हो गई. मुंबई में भी एक दिन पहले कम मामले आए थे. मंगलवार को शहर में 953 मामले आए थे.

Youtube Video

अमरावती ने बढ़ाई चिंता
इससे पहले खबर आई थी कि राज्य के अमरावती जिले में लॉकडाउन बेअसर साबित हो रहा है. जिले में दूसरी बार मामलों में बढ़त दर्ज की जा रही है. खास बात है कि अमरावती राज्य के उन जिलों में शामिल है, जहां दूसरी लहर की दस्तक सबसे पहले हुई थी. बीते कुछ समय में यवतमाल और बुलढाना में भी मामलों में बढ़त देखी गई है.

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, 9 से 15 अप्रैल के आंकड़ों से 8 से 14 मई की तुलना की जाए, तो रोज मिल रहे मामलों में औसतन 148 फीसदी की बढ़त हुई है. इस दौरान राज्य में रोज 65 हजार से ज्यादा मिल रहे मरीजों की संख्या गिरकर 40 हजार 900 पर आ गई है. राज्य में 16 अप्रैल को लॉकडाउन का ऐलान किया गया था.

राज्य के महामारी विशेषज्ञ डॉक्टर प्रदीप अवाते बताते हैं, 'तब से 19 जिलों के एक्टिव केस में इजाफा देखा गया है.' उन्होंने कहा, 'हम विदर्भ क्षेत्र में अमरावती, बुलढाना, यवतमाल को लेकर चिंतित हैं. यहां लॉकडाउन के बावजूद खासी बढ़त देखी गई है. नागपुर में मामलों में कमी आई.' रिपोर्ट के अनुसार, यवतमाल और बुलढाना में भी अप्रैल के अंत और मई की शुरुआत में इजाफा देखा गया. हालांकि, यहां बीते एक हफ्ते में मामलों में गिरावट देखी गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज