कोविड-19: कर्नाटक में बिगड़ रहे हैं हालात, एक दिन में 3648 केस

कोविड-19: कर्नाटक में बिगड़ रहे हैं हालात, एक दिन में 3648 केस
कर्नाटक में कोरोना मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय (State Health Ministry) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक सोमवार को राज्य में 3648 नए मामले सामने आए. जबकि एक दिन के भीतर 72 मौतें हुई हैं. राजधानी बेंगलुरु (Bengaluru) के हालात अन्य इलाकों के मुकाबले ज्यादा तेजी से खराब हो रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 20, 2020, 10:34 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. भारत के दक्षिणी राज्य कर्नाटक (Karnataka) में कोविड-19 के मामले (Covid-19 Cases) चिंताजनक रूप से बढ़ रहे हैं. राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक सोमवार को राज्य में 3648 नए मामले सामने आए. जबकि एक दिन के भीतर 72 मौतें हुई हैं. राजधानी बेंगलुरु के हालात अन्य इलाकों के मुकाबले ज्यादा तेजी से खराब हो रहे हैं. राजधानी में एक दिन में 1452 मामले सामने आए.

अनलॉक के बाद तेजी से बढ़े मामले
कर्नाटक में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने के बाद कोरोना के मामलों में तेजी आई है. हालांकि लॉकडाउन के दौरान महामारी के खिलाफ उठाए गए कदमों को लेकर येदियुरप्पा सरकार की काफी तारीफ भी की गई थी. लेकिन अब बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने एक हफ्ते का लॉकडाउन घोषित कर रखा है. इससे पहले खबर आई थी कि कोरोना वायरस की वजह से बेंगलुरू में इतनी मौतें हो रही हैं कि इलेक्ट्रिक शवदाह गृह में अंतिम संस्कार के लिए लाइन लगानी पड़ रही है. शहर के अलग-अलग इलाकों से आ रहीं एंबुलेंस शवदाह गृह के बाहर कतार में खड़ी हैं और कई-कई घंटों का समय लग रहा है.


तेज हुए सरकारी प्रयास


बढ़ते मामलों के मद्देनजर कर्नाटक सरकार ने प्रयासों में भी तेजी ला दी है. इसी क्रम में कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री सी. एन. अश्वथनारायण ने बेंगलुरु में एक निजी कंपनी द्वारा विकसित एक मॉड्यूलर मोबाइल गहन चिकित्सा इकाई का निरीक्षण किया है. इसकी खासियत यह है कि इसे एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सकता है. एक शिपिंग कंटेनर में निर्मित आईसीयू कोरोना के रोगियों तक पहुंचने के लिए बना है. एक रोगी के हालात की जांच के लिए आवश्यक चिकित्सा उपकरणों से सुसज्जित इस ICU को नियंत्रण क्षेत्रों में ले जाया जा सकता है.

प्रत्येक कंटेनर में पांच बेड लगाये गये हैं. इसमें ऑक्सीजन की आपूर्ति, एयर कंडीशनर, कैमरा, टेली-परामर्श सुविधा और उपकरण हैं. एक अन्य कंटेनर को एक नर्सिंग स्टेशन और निगरानी केंद्र के रूप में जोड़ा जा सकता है. बाद में आपदाओं के दौरान भी कंटेनरों का उपयोग किया जा सकता है. ऐसे दस मोबाइल आईसीयू बेंगलुरु के के सी जनरल अस्पताल में रखे जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading