रिपोर्ट: स्कूल खुलने से बढ़ा खतरा, 4 में से 3 बच्चों में नहीं दिखते कोरोना के लक्षण

स्कूल खुलने से बच्चों में बढ़ा कोरोना का खतरा. (फाइल फोटो).
स्कूल खुलने से बच्चों में बढ़ा कोरोना का खतरा. (फाइल फोटो).

ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक स्कूल खुलने के बाद से कई जगहों पर टीचर्स और स्‍टूडेंट्स के कोविड पॉजिटिव (Corona Positive) पाए जाने की खबरें आई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 4:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना (Corona) के मामले भले ही कम दिखाई दे रहे हों लेकिन कई राज्यों ने एक बार फिर केंद्र सरकार और डॉक्टरों की चिंता बढ़ा दी है. देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. ऐसे में इस बात को लेकर भी चर्चा जोरों पर है कि आखिर बच्चों को स्कूल (School) भेजा जाए या फिर नहीं. पिछले कई दिनों से जारी विवाद के बीच ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) की ताजा रिपोर्ट ने हर किसी की धड़कनें तेज कर दी हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि स्कूल खुलने के बाद से कई जगहों पर टीचर्स और स्‍टूडेंट्स के कोविड पॉजिटिव (Corona Positive) पाए जाने की खबरें आई हैं.

एम्स की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक सभी पॉजिटिव मरीजों में से 40% एसिम्‍प्‍टोमेटिक थे. जबकि इन मरीजों में 73.5% बच्चें 12 साल से कम उम्र के थे. इस तरह के बच्चों में कोरोना का संक्रमण तो होता है लेकिन वो दिखाई नहीं देता है. ऐसे में ये पता लगाना बेहद मुश्किल हो जाता है कि कौन सा बच्चा कोरोना पॉजिटिव है और कौन सा नहीं.

बता दें कि गृह मंत्रालय की ओर से जारी गाडइलाइन के बाद से देश में करीब 10 राज्यों में स्कूल खोल दिए गए हैं. इसमें उत्तर प्रदेश, बिहार, आंध्र प्रदेश जैसी बड़ी आबादी वाले राज्य भी शामिल हैं. एम्स की रिपोर्ट के मुताबिक हर 4 में से 3 कोरोना संक्रमित बच्चों में कोई लक्षण नहीं दिखाई दिए जो दूसरे बच्चों के लिए काफी खतरनाक हैं. ये बच्चे बहुत की आसानी से किसी दूसरे बच्चे को संक्रमित कर सकते हैं.




इसे भी पढ़ें :- जबलपुर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, कोरोना काल तक सिर्फ ट्यूशन फीस वसूलेंगे निजी स्‍कूल

बता दें कि आंध्र प्रदेश में इस महीने 9वीं-10वीं के स्‍कूल खोले गए थे. यहां पर स्कूल खुलने के तीसरे दिन ही 262 स्‍टूडेंट्स और 160 टीचर्स कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. इस पूरे मामले में स्कूल शिक्षा आयुक्त वी चिन्ना वीरभद्दू ने कहा, ये कहना कि स्कूल जाने की वजह से छात्र और शिक्षक कोरोना संक्रमित हुए ये गलत है. हरियाणा और फरीदाबाद में कई शिक्षक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज