• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पंजाब में रोडवेजकर्मियों की 3 दिवसीय हड़ताल शुरू, 1300 बसों के चक्के जाम

पंजाब में रोडवेजकर्मियों की 3 दिवसीय हड़ताल शुरू, 1300 बसों के चक्के जाम

पंजाब मं रोडवेज का चक्‍काजाम. (File pic)

पंजाब मं रोडवेज का चक्‍काजाम. (File pic)

Punjab News: पंजाब रोडवेज के राज्यभर में 18 डिपो व पीआरटीसी के 9 डिपो से बस ऑपरेशन पूरी तरह से बंद कर दिया गया है.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) में पनबस और पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (PUNBUS and PEPSU Road Transport Corporation) के अनुबंधकर्मी (Contract workers) आगामी बुधवार तक हड़ताल पर चले गए हैं. इसके चलते प्रदेश में रोडवेज की बसों का संचालन पूरी तरह से ठप हो गया है. पंजाब रोडवेज, पनबस व पीआरटीसी कांट्रेक्ट वर्कर्स यूनियन (Contract Workers Union) के आह्वान पर यह हड़ताल की गई है.

    यूनियन की मांग है कि लंबे समय से अनुबंध पर रखे गए कर्मचारियों को नियमित किया जाना चाहिए. कर्मचारियों का कहना है कि परिवहन में ठेकेदारी प्रथा को बंद किया जाना चाहिए. कर्मचारियों की यूनियन ने चेतावनी दी है कि अगर जल्द ही उनकी मांगे न मानी गईं तो कर्मचारी मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे.

    कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने के कारण 1300 बसों के चक्के जाम हो गए हैं. पंजाब रोडवेज के राज्यभर में 18 डिपो व पीआरटीसी के 9 डिपो से बस ऑपरेशन पूरी तरह से बंद कर दिया गया है. जिसके चलते आने वाले तीन दिन तक लोगों को परिशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

    यूनियन के चेयरमैन जसवीर सिंह का कहना है कि कर्मचारियों को अनुबंध पर काम करते हुए करीब 15 साल का समय हो चुका है. सरकार से कई बार कर्मचारियों को नियमित करने की मांग की जा चुकी है लेकिन उन्हें आश्वासन के अलावा कुछ भी नहीं मिल पाया है.

    उन्होंने कहा कि सोमवार को प्रदेश के लगभग सभी बस अड्‌डों पर कर्मचारियों के धरने और प्रदर्शन जारी हैं. इसके बाद भी यूनियन को सरकार वार्ता के लिए नहीं बुलाती है तो वे मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का घेराव करेंगे.

    कर्मचारियों के हड़ताल के कारण दिल्ली, उत्तराखंड और हरियाणा के लिए बसों का संचालन बंद हो चुका है. हिमाचल और जम्मू के लिए पहले से ही बस सेवाएं बंद हैं. पंजाब के इंटरनल रूटों पर भी सरकारी बसें बंद है, जिसके चलते लोगों को अपने गण्तव्य स्थानों पर पहुंचने के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज