कोच ने कहा- रोहित शर्मा ऑस्ट्रेलिया की गलती इंग्लैंड में ना दोहराएं, हो सकता है नुकसान

रोहि शर्मा ऑस्ट्रेलिया में 4 पारियों में सिर्फ एक अर्धशतक लगा सके थे. (AFP)

रोहि शर्मा ऑस्ट्रेलिया में 4 पारियों में सिर्फ एक अर्धशतक लगा सके थे. (AFP)

टीम इंडिया को अगले महीने इंग्लैंड जाना है. टीम को वहां वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World test Championship) के फाइनल के अलावा पांच मैचों की टेस्ट सीरीज (India vs England) भी खेलनी है. इंग्लैंड में टीम इंडिया का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने बतौर ओपनर टेस्ट में भी खुद को साबित किया हैं. हालांकि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वे अच्छी शुरुआत के बाद भी बड़ा स्कोर नहीं बना सके थे. इसे लेकर उनके बचपन के कोच दिनेश लाड ने चेतावनी दी है. टीम को अगले महीने इंग्लैंड में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World test Championship) का फाइनल खेलना है. इसके अलावा पांच मैचों की टेस्ट सीरीज (India vs England) भी होनी है.

दिनेश लाड ने स्पोर्ट्सकीड़ा ने बात करते हुए कहा, ‘इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया में रोहित शर्मा ने अपनी बल्लेबाजी से सबका ध्यान खींचा. वह तेज गेंदबाजों के खिलाफ अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था. ऐसा लग रहा था कि वह आउट ही नहीं होगा.’ उन्होंने कहा कि लेकिन कुछ पारियों में उसने अपने विकेट गलत शॉट खेलकर फेंक दिए. वह इंग्लैंड में ऐसा नहीं कर सकता. टीम को इसका नुकसान हो सकता है. रोहित ने ऑस्ट्रेलिया में चार पारियों में 26, 52, 44 और 7 रन बनाए थे. टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज 2-1 से जीती थी.

इंग्लैंड के खिलाफ किया शानदार प्रदर्शन

दिनेश लाड ने कहा, ‘उसे इंग्लैंड में थोड़ा अधिक फोकस रखना होगा. हर गेंद को उसकी मेरिट के हिसाब से खेलना होगा, क्योंकि वहां गेंद काफी स्विंग होती है. लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में टर्निंग ट्रेक्स पर रोहित ने अच्छा खेल दिखाया.’ उन्होंने कहा कि इन पिचों पर बाकी खिलाड़ियों को दिक्कत हुई थी. इसलिए मुझे भरोसा है कि वह इंग्लैंड में भी अपने खेल को बदल लेगा, क्योंकि क्रिकेट में हालात के हिसाब से ढलना सबसे जरूरी होता है.
यह भी पढ़ें: सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान के सईद अजमल से कहा था- मैच को गंभीरता से मत लो, लेकिन क्यों?

नेट सेशन का मिलेगा फायदा

टीम इंडिया 2 जून को इंग्लैंड जाएगी. इसके बाद तीन दिन तक उसे क्वारंटाइन रहना है. इसके बाद खिलाड़ी प्रैक्टिस कर सकेंगे. दिनेश लाड ने कहा कि स्विंग की परेशानी से बचने के लिए यदि मैच से पहले रोहित को नेट सेशन या आपस में खिलाड़ियों के साथ मैच खेलने को मिलता है तो उसे इसका फायदा मिलेगा. इससे वह खुद को वहां के मौसम से हिसाब से ढाल सकेगा. बतौर ओपनर रोहित ने टेस्ट में 4 शतक लगाए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज