Home /News /nation /

मणिपुर में असम राइफल्स पर हुए आतंकी हमले में चीनी सेना के रोल पर संदेह: सूत्र

मणिपुर में असम राइफल्स पर हुए आतंकी हमले में चीनी सेना के रोल पर संदेह: सूत्र

हमले के शहीदों को सलामी देते सेना के जवान और अधिकारी. (तस्वीर-पीटीआई)

हमले के शहीदों को सलामी देते सेना के जवान और अधिकारी. (तस्वीर-पीटीआई)

Role of Chinese Army Under Scanner in Manipur Attack: शीर्ष खुफिया सूत्रों के मुताबिक ऐसा संदेह है कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के आतंकियों को चीनी सेना ने म्यांमार में प्रशिक्षित किया हो. इसके अलावा अलगाववादी संगठन को हथियार भी चीनी सेना ने मुहैया करवाए हो सकते हैं. खुफिया एजेंसियों ने मणिपुर से लगे बॉर्डर के पास ऐसे कैंपों के ड्रोन वीडियो बनाए हैं. चीनी सेना के बड़े अधिकारियों की भी इस कैंप में मौजूदगी का संदेह है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. बीते सप्ताह मणिपुर (Manipur) में घात लगाकर हुए आतंकी हमले (Terrorist Ambush) को लेकर चीनी सेना (Chinese Army) का रोल संदेह के घेरे में है. खुफिया तंत्र से जुड़े सूत्रों के जरिए न्यूज़18 को इसकी जानकारी मिली है. इस हमले में असम राइफल्स (Assam Rifles) के एक कर्नल, उनकी पत्नी और बेटे समेत चार अन्य जवानों की मौत हो गई थी. इस हमले की जिम्मेदारी दो आतंकी गुटों ने ली है. इन आतंकी समूहों के नाम हैं-पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) और मणिपुर नगा पीपुल्स फ्रंट (MNPF).

शीर्ष खुफिया सूत्रों का कहना है कि ऐसा संदेह है कि PLA के आतंकियों को चीनी सेना ने म्यांमार में प्रशिक्षित किया हो. इसके अलावा अलगाववादी संगठन को हथियार भी चीनी सेना ने मुहैया करवाए हो सकते हैं. खुफिया एजेंसियों ने मणिपुर से लगे बॉर्डर के पास ऐसे कैंपों के ड्रोन वीडियो बनाए हैं. चीनी सेना के बड़े अधिकारियों की भी इस कैंप में मौजूदगी का संदेह है.

बीजिंग में भारत को लेकर नाराजगी
खुफिया तंत्र में मौजूद अधिकारियों का कहना है कि भारत के ताइवान और तिब्बत में चीन विरोधी लॉबी के साथ संबंधों को लेकर बीजिंग में नाराजगी है. इससे पहले बीते समय में भी ऐसे इनपुट्स मिल चुके हैं कि चीन नॉर्थ ईस्ट में अलगाववादी ताकतों को समर्थन देता है.

‘म्यांमार में चीन समर्थक संगठनों के साथ नॉर्थ ईस्ट के उग्रवादियों के सीधे संबंध हैं’
एक सूत्र ने बताया- म्यांमार में चीन समर्थक संगठनों के साथ नॉर्थ ईस्ट के उग्रवादियों के सीधे संबंध हैं. म्यांमार में मौजूद संगठनों का काम है कि वो नॉर्थ ईस्ट के संगठनों को भारत के खिलाफ मदद करते हैं. सूत्रों ने ये भी कहा है कि सुरक्षा एजेंसियों को ये भी चिंता है कि नॉर्थ ईस्ट के उग्रवादियों को म्यांमार सेना का समर्थन भी हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक भारत ने म्यांमार को ऐसे समूहों के बारे में जानकारी दी है और कहा है कि इनके खिलाफ एक्शन होना चाहिए.

Tags: Chinese Army, Manipur Ambush

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर