• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • तेलंगाना में चेक पोस्ट पर ID की जांच कर रहे RSS कार्यकर्ता? फोटो वायरल

तेलंगाना में चेक पोस्ट पर ID की जांच कर रहे RSS कार्यकर्ता? फोटो वायरल

चेकपोस्ट पर खड़े संघ कार्यकर्ताओं की  तस्वीर. (फोटो साभार: फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस)

चेकपोस्ट पर खड़े संघ कार्यकर्ताओं की तस्वीर. (फोटो साभार: फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस)

तेलंगाना (Telangana) में तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कार्यकर्ता भी कथित तौर पर पुलिसकर्मियों की तरह चेकपोस्ट पर लोगों की आईडी चेक कर रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) है. इसे सही ढंग से लागू करने के लिए जगह-जगह चेकपोस्ट बनाए गए हैं. इन चेकपोस्ट पर पुलिस की कड़ी नजर है. तेलंगाना (Telangana) में तो राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के कार्यकर्ता भी कथित तौर पर पुलिसकर्मियों की तरह चेकपोस्ट पर लोगों की आईडी चेक कर रहे हैं. सोशल मीडिया में ऐसे फोटो वायरल हो रहे हैं, जिनमें आरएसएस कार्यकर्ताओं को चेकपोस्ट पर ऐसा करते हुए देखा जा सकता है. मजलिस बचाओ तहरीक ने इस मामले में सरकार पर सवाल उठाए हैं.

    आरएसएस (RSS) के स्वयंसेवकों की ऐसी तस्वीरें दो दिन से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं, जिनमें उन्हें बैरिकेड पर लोगों को रोकने और उनके आईडी की जांच करते हुए देखा जा सकता है. ये स्वयंसेवक हाथों में लाठी रखे हुए हैं. इन तस्वीरों को फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस ने पोस्ट किया था. पोस्ट का कैप्शन है, ‘आरएसएस के स्वयं सेवक यदादरी भुवांगिरी जिले के चेक पोस्ट पर पुलिस की रोज 12 घंटे मदद कर रहे हैं.’

    हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, हैदराबाद के राजनीतिक संगठन, मजलिस-बचाओ-तहरीक के अध्यक्ष, अमजदुल्ला खान ने इस मामले में तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सरकार पर सवाल उठाए. उन्होंने बयान जारी कर कहा, ‘क्या मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की अध्यक्षता वाली टीआरएस सरकार ने राज्य के विभागों के लिए आरएसएस को काम करने की अनुमति दी है या यह हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं की एक और दादागिरी है.’



    खान ने तेलंगाना के सीएमओ, आईटी मंत्री केटी रामा राव और पुलिस महानिदेशक को भी टैग किया है. उन्होंने पूछा कि सर, आप पुलिस चेक पोस्ट पर लाठी लेकर खड़े आरएसएस कार्यकर्ताओं के इस मुद्दे पर चुप क्यों हैं. लोग पूछ रहे हैं कि क्या तेलंगाना की पुलिस अब संघ से आउटसोर्स कर रही है. कृपया अपनी चुप्पी तोड़ें.’ आरएसएस के प्रांत कार्यवाह कच्छम रमेश ने कहा कि ऐसी रिपोर्ट में कोई सच्चाई नहीं है कि उनके स्वयं सेवकों ने आईडी कार्ड की जांच की थी. यह एक झूठा आरोप है.

    वहीं, फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस के एकाएंट से ट्वीट की गई पोस्ट में आरएसएस तेलंगाना इकाई के मीडिया समन्वयक नादिमपल्ली आयुष ने कहा कि संघ के स्वयंसेवकों ने पुलिस की सहमति से केवल यात्रियों की जांच में भाग लिया था. राचकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश भागवत ने स्वीकार किया कि कुछ आरएसएस स्वयंसेवकों ने अलायर चेक पोस्ट का दौरा किया था. उन्हें रोक दिया गया और वे पिछले दो दिनों में वहां नहीं गए हैं.

    यह भी पढ़ें: 

    भोपाल में पैदा हुआ अजीब संकट, Corona के आधे मरीज हेल्थ डिपार्टमेंट के

    COVID-19: कोरोना से ऐसे लड़ाई जीत रहा है केरल, 24 घंटे में ठीक हुए 36 मरीज़

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज