होम /न्यूज /मनोरंजन /Kantara ने किया बड़े बजट की फिल्मों के मिथक का भंडाफोड़, ऋषभ शेट्टी स्टारर पर एस एस राजामौली दिया बड़ा बयान

Kantara ने किया बड़े बजट की फिल्मों के मिथक का भंडाफोड़, ऋषभ शेट्टी स्टारर पर एस एस राजामौली दिया बड़ा बयान

Kantara ने किया बड़े बजट की फिल्मों के मिथक का भंडाफोड़, एस एस राजामौली बोले- आखिर हम क्या कर रहे हैं?

Kantara ने किया बड़े बजट की फिल्मों के मिथक का भंडाफोड़, एस एस राजामौली बोले- आखिर हम क्या कर रहे हैं?

SS Rajamouli Feels on Rishab Shetty Kantara: कांतारा फिल्म का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन जिस तरह से बढ़ रहा है उसने एस एस राजाम ...अधिक पढ़ें

पहले प्रशांत नील (Prashanth Neal) निर्देशित और यश स्टारर ‘केजीएफ 2’ (KGF 2) ने बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचाया और इसके बाद ऋषभ शेट्टी (Rishab Shetty) की ‘कांतारा’ ने ताबड़तोड़ कमाई की. फिल्म को महज 16 करोड़ के छोटे बजट से बनाया गया था जिसने कमाई के कई रिकॉर्ड्स तोड़ डाले हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, फिल्म अब तक 400 करोड़ से ज्यादा का बिजनेस कर चुकी है और आने वाले वक्त में इसका कारोबार बढ़ेगा. क्योंकि ओटीटी पर आने के बाद भी लोग इसे देखने थिएटर्स जा रहे हैं. फिल्म की स्टोरी लाइन देशभर में आग की तरह फैली है और इसकी हर एक छोटे- बड़े निर्देशक व स्टार ने तारीफ की है. वैसे तो राजामौली पहले ही ऋषभ शेट्टी के हुनर को सराह चुके हैं और अब उन्होंने एक बार फिर इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.

कांतारा के कारोबार ने राजामौली को किया हैरान

बाहुबली और आरआरआर (RRR) के जरिए दुनिया भर में फेम पाने वाले एसएस राजामौली भी कांतारा की बिग सक्सेस से हैरान हो गए हैं. उन्होंने कहा, ‘अगर छोटे पैमाने की फिल्में जैसे कांतारा बॉक्स ऑफिस पर टूट पड़ती हैं उन्हें दबाव में लाती हैं तो हमें परखने जी जरूरत है. वे कहते हैं कि ‘हमें वापस जाने और यह जांचने की जरूरत है कि हम क्या कर रहे हैं.’ बतादें कि कांतारा इस साल के सबसे बड़े बॉक्स ऑफिस सरप्राइज में अपनी जगह बनाने में कामयाब रही है. केजीएफ चैप्टर 2 और आरआरआर के बाद इस फिल्म ने दर्शकों पर गहरा प्रभाव डाला है. सिर्फ हम जैसे दर्शक ही नहीं बल्कि एसएस राजामौली जैसे फिल्म निर्माताओं ने भी ऋषभ शेट्टी अभिनीत फिल्म को गंभीरता से लिया है, जिससे वे अपनी रणनीति पर पुनर्विचार कर रहे हैं.

बड़े बजट की फिल्मों का कांतारा ने किया भंडाफोड़

राजामौली फिलहाल आरआरआर के लिए अपने ऑस्कर में जगह बनाने के कैंपेन में बिजी हैं. राम चरण और जूनियर एनटीआर अभिनीत उनकी फिल्म ने 1100 करोड़ से अधिक की कमाई करके दुनिया भर में धूम मचाई है. प्रशांत नील की केजीएफ चैप्टर 2 ने भी दुनिया भर के बॉक्स ऑफिस पर 1200 करोड़ से अधिक की कमाई की. यह देखते हुए कि वे इवेंट फिल्में थीं और उनके चर्चे आसमान छू रहे थे और हमने इसे संख्याओं में बदलते देखा. फिर कांतारा आई, जिसने बड़े पैमाने की फिल्मों के मिथक (Myth of large-scale films) का भंडाफोड़ किया है.

टिकट खिड़की पर कांतारा ने किया चमत्कार

एक फिल्म साथी से बात करते हुए एसएस राजामौली ने कहा कि ‘ऋषभ शेट्टी स्टारर ने साबित कर दिया है कि एक छोटे पैमाने की फिल्म भी टिकट खिड़की पर चमत्कार कर सकती है. बड़ा बजट कुछ होता है.. और अचानक कांतारा आती है और वो बॉक्स ऑफिस पर वो रिकॉर्ड बनाती है..जो अचानक साबित करती है कि आपको बड़े नंबर करने के लिए बड़े बजट की फिल्म की जरूरत नहीं है. कांताराा जैसी छोटी फिल्म भी ऐसा कर सकती है.’

कांतारा ने बनाया बड़े बजट की फिल्में बनाने वाले निर्देशकों पर दवाब

एसएस राजामौली ने आगे कहा कि कांतारा जैसी फिल्मों ने उन्हें और अन्य कई ऐसे फिल्म निर्माताओं को दबाव में डाल दिया, जो बड़े पैमाने पर फिल्मों को माउंट करते हैं. ऋषभ शेट्टी की फिल्म उन्हें अपनी फिल्म निर्माण प्रक्रिया पर पुनर्विचार करने के लिए मजबूर कर रही है. वे कहते हैं कि ‘दर्शकों के रूप में यह रोमांचक है, लेकिन फिल्म निर्माताओं के रूप में हमें वापस जाने और यह जांचने की आवश्यकता है कि हम क्या कर रहे हैं.’

Tags: Kannada film industry, South Indian Films, South Indian Movies, Ss rajamouli, Trending, Trending news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें