होम /न्यूज /राष्ट्र /RSS की मानहानि मामले में राहुल गांधी के खिलाफ सुनवाई टली, 3 दिसंबर मिली अगली तारीख

RSS की मानहानि मामले में राहुल गांधी के खिलाफ सुनवाई टली, 3 दिसंबर मिली अगली तारीख

अदालत अगली तारीख पर आरएसएस की मानहानि मामले में पेश होने से स्थाई छूट के आग्रह से जुड़ी राहुल गांधी की याचिका पर भी सुनवाई करेगी. (फाइल फोटो- PTI)

अदालत अगली तारीख पर आरएसएस की मानहानि मामले में पेश होने से स्थाई छूट के आग्रह से जुड़ी राहुल गांधी की याचिका पर भी सुनवाई करेगी. (फाइल फोटो- PTI)

राहुल गांधी ने वर्ष 2104 में एक भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने महात्मा गांधी की हत्या के लिए आरएसएस को जिम्मेदार ठहराया ...अधिक पढ़ें

ठाणे. महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी की एक अदालत ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के एक कार्यकर्ता द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ दायर मानहानि मामले में सुनवाई शनिवार को तीन दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दी. अदालत अगली तारीख को मामले में पेश होने से स्थायी छूट के आग्रह से संबंधित गांधी की याचिका पर भी सुनवाई करेगी.

संयुक्त दीवानी न्यायाधीश और न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी (JMFC) एलसी वाडीकर आरएसएस कार्यकर्ता राजेश कुंटे द्वारा गांधी के खिलाफ दायर मानहानि मामले की सुनवाई कर रहे हैं. कुंटे ने 2014 में भिवंडी में गांधी के भाषण के बाद मामला दायर किया था, जिसमें कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया था कि महात्मा गांधी की हत्या के पीछे आरएसएस का हाथ था. कुंटे ने दावा किया है कि इस बयान से संघ की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंची है.

इस मामले में 2018 में ठाणे की एक अदालत ने गांधी के खिलाफ आरोप तय किए थे, लेकिन उन्होंने अपने खिलाफ आरोपों को स्वीकार नहीं किया था. गांधी के वकील नारायण अय्यर ने कहा कि उपस्थिति से स्थायी छूट के लिए गांधी की ओर से याचिका 2 तारीख पहले दायर की गई थी, लेकिन अब तक उस पर सुनवाई नहीं हुई है.

बता दें कि राहुल गांधी ने वर्ष 2104 में एक भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने महात्मा गांधी की हत्या के लिए आरएसएस को जिम्मेदार ठहराया था. इस केस में राहुल गांधी साल 2018 में खुद कोर्ट के समक्ष पेश हुए थे और उन्होंने खुद को बेकसूर बताया था.

Tags: Rahul gandhi, RSS

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें