फरवरी में अहमदाबाद में होगा RSS का फिल्म फेस्टिवल

अगले वर्ष फरवरी में RSS फिर फिल्म महोत्सव का आयोजन करने जा रहा है. 'चित्र भारतीय फिल्म फेस्टिवल' में लघु, डॉक्यूमेंट्री, एनिमेशन और कैंपस फिल्में दिखाई जाएंगी. फिल्मों की विषयवस्तु भारतीय संस्कृति और मूल्य, राष्ट्रीय सुरक्षा, राष्ट्रवाद रखे गए हैं.

Anup Gupta
Updated: July 29, 2019, 6:55 PM IST
फरवरी में अहमदाबाद में होगा RSS का फिल्म फेस्टिवल
फिल्म फेस्टिवल का विषय भारतीय संस्कृति-मूल्य, राष्ट्रीय सुरक्षा, राष्ट्रवाद रखे गए हैं.
Anup Gupta
Anup Gupta
Updated: July 29, 2019, 6:55 PM IST
राष्ट्रवादी और सांस्कृतिक मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) एक बार फिर फिल्म महोत्सव का आयोजन करने जा रहा है. फिल्म महोत्सव का आयोजन अगले साल 2020 को 21, 22 और 23 फरवरी को अहमदाबाद में होने जा रहा है. इस 'चित्र भारतीय फिल्म फेस्टिवल' में लघु फिल्म, डॉक्यूमेंट्री, एनिमेशन और कैंपस फिल्में दिखाई जाएंगी. फिल्मों की विषयवस्तु भारतीय संस्कृति और मूल्य, भारतीय परिवार, राष्ट्रीय सुरक्षा, राष्ट्रवाद, शौर्य रखे गए हैं. इसके लिए देश भर से आवेदन मंगाए गए हैं.

ऐसा होगा फिल्म फेस्टिवल
इस फिल्म फेस्टिवल में खास तौर पर युवा फिल्मकारों को प्रोत्साहित करने के लिए 2 केटेगरी बनाई गई हैं. एक स्कूल विद्यार्थियों की श्रेणी और दूसरी गैर पेशेवर विद्यार्थियों की श्रेणी रखी गयी है. सर्वश्रेष्ठ फिल्मों को फिल्म फेस्टिवल में दिखाया जाएगा साथ ही उन्हें पुरस्कृत भी किया जाएगा. चित्र फिल्म फेस्टिवल के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए फिल्म निर्माता सुभाष घई ने कहा कि इस तरह का फिल्म फेस्टिवल भारतीयता को बढ़ावा देने में मददगार होगा.

film festival, gujrat, ahemdabad, rss, subhash ghai, फिल्म फेस्टिवल, गुजरात, अहमदाबाद, आरएसएस, सुभाष घई
फरवरी 2020 में होगा RSS का फिल्म फेस्टिवल


सुभाष घई ने कहा कि दुनिया में हमें पहचान सबसे पहले गांधी फिल्म ने दिलाई थी. फिल्म भारत की थी लेकिन डायरेक्टर विदेशी थे. ये हमारे लिए सीख थी कि हम खुद अपनी पहचान दुनिया को दिखाने में सक्षम हों. सुभाष घई ने कहा कि इस तरह के आयोजन से भारतीय संस्कृति और कहानियों को प्रोत्साहन मिलेगा.

2016 से हो रहा है आयोजन
आरएसएस का ये पहला फिल्म फेस्टिवल नहीं है. 2018 में चित्र भारती फिल्म फेस्टिवल का आयोजन दिल्ली के सिरी फोर्ट में किया गया था. इसमें 15 राज्यों की 703 फिल्में दिखाई गई थीं. इस फिल्म फेस्टिवल की शुरुआत सबसे पहले 2016 में इंदौर से की गई थी, जिसमे 8 राज्यों की 319 फिल्में चुनी गईं थीं.
Loading...

ये भी पढ़ें -उन्नाव रेप पीड़िता का एक्सीडेंट: जानिए कौन हैं ट्रक ड्राइवर और मालिक, क्या है 'फतेहपुर' कनेक्शन?

जम्मू- कश्मीर में चुनाव की आहट, अक्टूबर-नवंबर तक कराए जा सकते हैं विधान सभा चुनाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Gujarat से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 6:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...