Home /News /nation /

AK-203 असॉल्ट राइफल सौदे पर मुहर, S-400 मॉडल का तोहफा; बेहद खास है व्लादिमीर पुतिन का भारत दौरा

AK-203 असॉल्ट राइफल सौदे पर मुहर, S-400 मॉडल का तोहफा; बेहद खास है व्लादिमीर पुतिन का भारत दौरा

सरकार ने अमेठी के कोरवा में पांच लाख से अधिक एके-203 असॉल्ट राइफलों के उत्पादन की योजना को मंजूरी दी है. (सांकेतिक तस्वीर)

सरकार ने अमेठी के कोरवा में पांच लाख से अधिक एके-203 असॉल्ट राइफलों के उत्पादन की योजना को मंजूरी दी है. (सांकेतिक तस्वीर)

Vladimir Putin India Visit: सरकार ने चार दिसंबर को ही अमेठी के कोरवा में पांच लाख से अधिक एके-203 असॉल्ट राइफलों के उत्पादन की योजना को मंजूरी दी है. पिछले साल रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मॉस्को यात्रा के दौरान रूस और भारत दोनों ने सौदे के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी थी. सूत्रों ने बताया कि एके-203 असॉल्ट राइफल, 300 मीटर की प्रभावी रेंज के साथ, हल्की, मजबूत और प्रमाणित तकनीक के साथ आसानी से उपयोग में लाई जा सकने वाली आधुनिक असॉल्ट राइफल हैं।

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) की सोमवार को नई दिल्ली की यात्रा के दौरान दोनों देश भारत में ही एके-203 असॉल्ट राइफलों (AK-203 Assault Rifles) के विनिर्माण के लिए 5,100 करोड़ रुपये से अधिक के बड़े सौदे पर हस्ताक्षर करेंगे. रूसी राष्ट्रपति अपनी एक दिवसीय यात्रा के दौरान भारत को हथियार प्रणाली की डिलीवरी के प्रतीक के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को एस-400 वायु रक्षा प्रणाली (S-400 Air Defence System) का मॉडल भी सौंपेंगे. समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से रविवार को यह जानकारी दी.

    इस यात्रा की सबसे अहम बात AK-203 असॉल्ट राइफल सौदे को अंतिम रूप देना होगा, जिसका उत्पादन उत्तर प्रदेश के अमेठी के कोरवा में किया जाएगा. इसके साथ ही भारत-रूस संयुक्त उद्यम कंपनी (India-Russia Joint Venture Company) द्वारा पांच लाख से अधिक राइफलों के विनिर्माण समझौते पर हस्ताक्षर करने के सात वर्षों के भीतर प्रौद्योगिकी का पूर्ण हस्तांतरण भी किया जाएगा. एक दिन पहले चार दिसंबर को ही केंद्र सरकार ने एके-203 असॉल्ट राइफल के विनिर्माण सौदे को अपनी अंतिम मंजूरी दी है.

    इग्ला वायु रक्षा प्रणाली सौदे पर हो सकती है चर्चा
    सूत्रों ने कहा कि दोनों पक्ष इग्ला वायु रक्षा प्रणाली सौदे पर भी चर्चा कर रहे थे, लेकिन इस यात्रा के दौरान इस पर हस्ताक्षर होने की संभावना नहीं है. उन्होंने कहा कि कुछ साल पहले दोनों पक्षों के बीच समझौते पर सहमति बनी थी और अब आखिरी बड़ा मुद्दा प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के मुद्दों को हल करना होगा.

    अमेरिकी लॉबिंग के बीच रूस संग रक्षा संबंधों पर मुहर लगाएगा भारत, जानें कितना खास है पुतिन का यह दौरा

    भारतीय सेना द्वारा अधिग्रहित की जाने वाली 7.5 लाख राइफलों में से, पहले 70,000 में रूसी निर्मित हथियार शामिल होंगे क्योंकि प्रौद्योगिकी का हस्तांतरण धीरे-धीरे होता है. उत्पादन प्रक्रिया शुरू होने के 32 महीने बाद इन्हें सेना को दिया जाएगा.

    क्यों सेना के लिए खास है एके-203 असॉल्ट राइफल
    ये 7.62 X 39एमएम कैलिबर एके-203 (असॉल्ट कालाश्निकोव-203) राइफल तीन दशक पहले शामिल सेवा में जारी इंसास राइफल की जगह लेंगी. सूत्रों ने बताया कि एके-203 असॉल्ट राइफल, 300 मीटर की प्रभावी रेंज के साथ, हल्की, मजबूत और प्रमाणित तकनीक के साथ आसानी से उपयोग में लाई जा सकने वाली आधुनिक असॉल्ट राइफल हैं. ये वर्तमान और परिकल्पित अभियान संबंधी चुनौतियों का पर्याप्त रूप से सामना करने के लिए सैनिकों की युद्ध क्षमता को बढ़ाएंगी.

    Tags: India, Narendra modi, Russia, Vladimir Putin

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर