होम /न्यूज /राष्ट्र /Ukraine Crisis: क्रेमलिन ने कहा- पुतिन और बाइडेन के बीच वार्ता का आयोजन करना जल्दबाजी होगा

Ukraine Crisis: क्रेमलिन ने कहा- पुतिन और बाइडेन के बीच वार्ता का आयोजन करना जल्दबाजी होगा

क्रेमलिन ने कहा कि भविष्य में जरूरत पड़ी तो दोनों राष्ट्राध्यक्ष बैठक कर सकते हैं.(फाइल फोटो)

क्रेमलिन ने कहा कि भविष्य में जरूरत पड़ी तो दोनों राष्ट्राध्यक्ष बैठक कर सकते हैं.(फाइल फोटो)

Ukraine Crisis: क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि किसी भी प्रकार के शिखर सम्मेलन के आयोजन क ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: यूक्रेन (Ukraine Crisis) के साथ बढ़ते तनाव के बीच क्रेमलिन ने सोमवार को कहा कि रूसी और अमेरिकी राष्ट्रपतियों के बीच इस समय एक शिखर सम्मेलन के आयोजन पर चर्चा करना जल्दबाजी होगा क्योंकि पेरिस ने यूक्रेन विवाद को शांति तरीके से हल करने के लिए एक बैठक करने की संभावना जताई है. फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (vladimir putin) के बीच मीटिंग के लिए एक समझौता किया गया है. इस समझौते में यह शर्त रखी गई है कि मास्को को यूक्रेन में सेना भेजने से पीछे हटना होगा.

क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा, ‘किसी भी प्रकार के शिखर सम्मेलन के आयोजन के बारे में बात करना अभी जल्दबाजी होगी.’ पेसकोव ने कहा कि फिलहाल अभी दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के स्तर पर बातचीत जारी रखी जानी चाहिए और अभी राष्ट्रपति शिखर सम्मेलन के लिए कोई ठोस योजना नहीं है.

यह भी पढ़ें- अब जड़ से खत्म होगा कोरोना! देश के इस डॉक्टर ने नाक से सूंघाकर ठीक की बीमारी, इंटरनेशनल जर्नल में भी छपी है रिसर्च

क्रेमलिन ने कहा कि यदि भविष्य में जरूरत पड़ी तो निश्चित रूप से रूसी और अमेरिकी राष्ट्रपति टेलीफोन कॉल या फिर किसी अन्य तरीकों से जुड़ने का फैसला कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि यदि दोनों राष्ट्र के प्रमुख इसे उचित समझे तो एक बैठक संभव हो सकती है.

पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि अलगाववादियों और यूक्रेन की सेना के बीच ताजा लड़ाई ने जमीनी स्थिति को पहले से कई गुना ज्यादा तनावपूर्ण बना दिया है. उन्होंने कहा, ‘हम इस समय यूक्रेनी सेना की तरफ से उकसाने वाली कार्रवाई के बारे में बात रहे हैं जिससे लाखों नागरिकों के जीवन पर खतरा मंडरा रहा है.’

गौरतलब है कि रूस ने रविवार को यूक्रेन की उत्तरी सीमाओं के पास सैन्य अभ्यास बढ़ा दिया था. उसने यूक्रेन की उत्तरी सीमा से लगे बेलारूस में करीब 30,000 सैनिकों की तैनाती की है. साथ ही यूक्रेन की सीमाओं पर 1,50,000 सैनिकों, युद्धक विमानों और अन्य साजो-सामान की तैनाती कर रखी है. कीव की आबादी करीब 30 लाख है.

Tags: Joe Biden, Ukraine, Vladimir Putin

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें