भारत पहुंची कोरोना वैक्‍सीन स्‍पूतनिक की दूसरी खेप, राजदूत ने कहा- हर साल 85 करोड़ डोज बनाने की उम्‍मीद

भारत पहुंची स्‍पूतनिक V की दूसरी खेप. (Pic- ANI)

भारत पहुंची स्‍पूतनिक V की दूसरी खेप. (Pic- ANI)

Sputnik V Corona Vaccine: रूसी राजदूत ने कहा कि स्‍पूतनिक V 'रूसी-भारतीय वैक्‍सीन' है. भारत में जल्‍द ही रूस की सिंगल डोज कोरोना वैक्‍सीन स्‍पूतनिक लाइट को भी लाने का प्‍लान है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. रूस (Russia) की कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्‍सीन (Corona Vaccine) स्‍पूतनिक V (Sputnik V) की दूसरी खेप भी रविवार को भारत पहुंच गई है. ये हैदराबाद में विमान से लाई गई. इसके साथ ही भारत में रूसी राजदूत एन कुदाशेव ने कहा है कि भारत में स्‍पूतनिक V वैक्‍सीन का उत्‍पादन बढ़ाकर हर साल 85 करोड़ डोज तक किए जाने की उम्‍मीद है.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार रूसी राजदूत ने कहा कि स्‍पूतनिक V 'रूसी-भारतीय वैक्‍सीन' है. इसके साथ ही उम्‍मीद है कि भारत में इसका उत्‍पादन तेजी से बढ़ेगा. इसके अलावा उन्‍होंने यह भी कहा कि भारत में जल्‍द ही रूस की सिंगल डोज कोरोना वैक्‍सीन स्‍पूतनिक लाइट को भी लाने का प्‍लान है. इसकी प्रभावशीलता के बारे में पूरा विश्‍व जानता है.

रूसी राजदूत ने कहा, 'रूस में जुलाई, 2020 से लोगों के टीकाकरण के लिए यह वैक्‍सीन इस्‍तेमाल हो रही है. रूसी विशेषज्ञों ने कहा है कि यह कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन के खिलाफ भी प्रभावी है.


रविवार को हैदराबाद में स्‍पूतनिक की दूसरी खेप पहुंची. वहीं भारत में इसकी पहली खेप 1 मई को सेंट्रल ड्रग्‍स लैबोरेटरी की क्लियरेंस के बाद पहुंची थी. देश में वैक्‍सीन की किल्‍लत के बीच गुरुवार को केंद्र सरकार ने जानकारी दी है कि स्‍पूतनिक V वैक्‍सीन अगले हफ्ते से बाजार में उपलब्‍ध होगी.


शुक्रवार को हैदराबाद की डॉ. रेड्डीज लैब ने भारत में स्‍पूतनिक लॉन्‍च की. ये भारत में इस वैक्‍सीन के लिए पार्टनर हैं. इसकी कीमत 995 रुपये हो सकती है. सीएनएन-न्‍यूज18 से डॉ. रेड्डीज के बड़े अफसर ने शनिवार को कहा था कि अगले 8 से 10 महीने में भारत को स्‍पूतनिक की 25 करोड़ डोज मिलेंगी. भारत में इसका उत्‍पादन जुलाई में शुरू होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज