लाइव टीवी

रूसी कैडेट्स ने गाया 'ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी कसम तेरी राहों में जां लुटा जाएंगे', Video Viral

News18Hindi
Updated: November 30, 2019, 12:51 PM IST
रूसी कैडेट्स ने गाया 'ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी कसम तेरी राहों में जां लुटा जाएंगे', Video Viral
गाना गाते हुए रूसी कैडेट्स

रूसी कैडेट्स का यह वीडियो खूब वायरल हो रहा है. रूस की राजधानी मॉस्को में एक कार्यक्रम के दौरान कैडेट्स ने साल 1965 में आई फिल्म 'शहीद' का गाना गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2019, 12:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. रूस की सेना के कैडेट्स का वीडियो खूब वायरल हो रहा है. इसमें वह सभी हिन्दी फिल्म 'शहीद' के प्रसिद्ध देशभक्ति गीत 'ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी कसम तेरी राहों में जां लुटा जाएंगे' गा रहे हैं. इस वीडियो के वायरल होने के बाद ट्विटर पर लोगों ने इन रूसी कैडेट्स के प्रति अपना प्यार और आभार जताया.

1965 में मोहम्मद रफ़ी ने 'ऐ वतन' द्वारा गाया गया था. एक ट्विटर यूजर ने लिखा- 'इसने मेरा दिन बना दिया ... रूसी सेना के कैडेटों ने ऐ वतन ऐ वतन गाया.'

मास्को में भारतीय दूतावास के सैन्य सलाहकार ब्रिगेडियर राजेश पुष्कर भी वीडियो में देखे जा सकते हैं. एक अन्य ने कहा: "कमाल! रूसी भारतीय देशभक्ति गीत गाते हुए. ऐ वतन, ऐ वतन .."

एक शख्स ने लिखा - 'रूस आजादी के बाद से भारत का सच्चा समकक्ष है. उनके समर्थन के लिए खुशी है !?'
Loading...

यह गाना आज भी लोगों का जुबां पर
शहीद-ए-आजम भगत सिंह के जीवन पर आधारित 1965 की हिंदी फिल्म 'शहीद' का यह गाना आज भी लोगों की जुबां पर है. भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन पर आधारित सबसे प्रमुख भारतीय देशभक्ति फिल्मों में से एक, यह केवल कश्यप द्वारा निर्मित और एस राम शर्मा द्वारा निर्देशित की गई है.

इस फिल्म में मनोज कुमार, कामिनी कौशल, प्राण, इफ्तिखार, निरूपा रॉय, प्रेम चोपड़ा, मदन पुरी और अनवर मुख्य भूमिकाओं में हैं. संगीत प्रेम धवन का है. शहीद मनोज कुमार की पहली देशभक्ति फिल्म थी. इसके बाद उपकार, पूरब और पश्चिम और क्रांति जैसी फिल्में आईं.

फिल्म जीत चुकी है नेशनल अवार्ड
13वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में, 'शहीद' ने हिंदी में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का पुरस्कार, राष्ट्रीय एकता पर सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का नरगिस दत्त पुरस्कार और बीके दत्त और दीन दयाल शर्मा के लिए सर्वश्रेष्ठ पटकथा का पुरस्कार जीता.

फिल्म को 15 अगस्त 2016 को स्वतंत्रता दिवस फिल्म महोत्सव में प्रदर्शित किया गया था, जिसे 70वें भारतीय स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में भारतीय फिल्म निदेशालय और रक्षा मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से प्रस्तुत किया गया था.

यह भी पढ़ें :-

मलयालम कवि अक्कितम अच्युतन नंबूदरी को मिलेगा 2019 का ज्ञानपीठ पुरस्कार
संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन से पहले दिल्ली सड़कों पर उतरे लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2019, 12:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...