पाकिस्तान में रूस की वैक्सीन स्पूतनिक V के 2 डोज की कीमत 12 हजार!

स्पूतनिक को भारत में इमरजेंसी यूज की अनुमति नहीं दी गई है. (फाइल फोटो)

स्पूतनिक को भारत में इमरजेंसी यूज की अनुमति नहीं दी गई है. (फाइल फोटो)

ट्विटर पर omar r quraishi नाम के सर्टिफाइड ट्विटर हैंडल से जानकारी दी गई है कि उन्होंने स्पूतनिक के दोनों डोज के लिए 79 अमेरिकी डॉलर यानी पाकिस्तानी करेंसी के हिसाब से 12000 रुपए खर्च किए. भारत के हिसाब से इसकी कीमत करीब 5800 रुपए है.

  • Share this:
नई दिल्ली. रूस दुनिया का पहला ऐसा देश था जिसने कोरोना वायरस की वैक्सीन (First Covid-19 Vaccine) बनाने का दावा किया था. अगस्त 2020 में रूस (Russia) ने इस वैक्सीन की घोषणा कर दी थी जिसके बाद एक्सपर्ट्स की तरफ से चिंता भी जाहिर की गई थी. दुनियाभर के एक्सपर्ट्स ने कहा था कि इस वैक्सीन को लेकर पर्याप्त क्लीनिकल ट्रायल नहीं किया गया है. अब पाकिस्तान (Pakistan) से खबर आई है कि स्पूतनिक के दो डोज के लिए वहां 12 हजार रुपए अदा करने पड़ रहे हैं. दरअसल इसकी जानकारी एक पाकिस्तानी पत्रकार ने अपनी ट्विटर वॉल पर शेयर की है. न्यूज़18 इसकी सत्यता की गारंटी नहीं लेता.

ट्विटर पर omar r quraishi नाम के सर्टिफाइड ट्विटर हैंडल से जानकारी दी गई है कि उन्होंने स्पूतनिक के दोनों डोज के लिए 79 अमेरिकी डॉलर यानी पाकिस्तानी करेंसी के हिसाब से 12000 रुपए खर्च किए. भारत के हिसाब से इसकी कीमत करीब 5800 रुपए है. कुरैशी ने बताया कि उन्होंने वैक्सीन के दो डोज 21 दिनों के अंतराल पर कराची में लिए हैं. बाद में उन्होंने एक वीडियो अपलोड कर यह भी कहा है कि देश में जो लोग भी वैक्सीन का खर्च उठा सकते हैं उन्हें स्पूतनिक वैक्सीन लगवानी चाहिए. कुरैशी के बायो में जानकारी दी गई है वो पूर्व द डॉन अखबार के लिए काम कर चुके हैं.



बता दें कि भारत में स्पूतनिक को इमरजेंसी यूज की अनुमति नहीं दी गई है. भारत की एक्सपर्ट कमेटी ने देश में स्पूतनिक का ट्रायल कर रही फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज से और डेटा की मांग की है. गौरतलब है कि स्पूतनिक वैक्सीन को माइनस 18 डिग्री सेल्सियस पर फ्रीज करके रखना जरूरी होता है. कंपनी से इस वैक्सीन के रख-रखाव और ट्रांसपोर्टेशन प्रक्रिया पर भी स्पष्ट रोडमैप मांग गया है.
इससे पहले फार्मा डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज ने उम्मीद जताई थी कि स्पूतनिक को अगले कुछ सप्ताह में भारतीय औषधि नियामकों से मंजूरी मिल जाएगी. फिलहाल कंपनी की उम्मीदों को तात्कालिक तौर पर झटका लगा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज