कांग्रेस में विधायकों से राय ली जाती है, इसी वजह से सचिन नहीं बने CM: मोईली

कांग्रेस में विधायकों से राय ली जाती है, इसी वजह से सचिन नहीं बने CM: मोईली
वीरप्पा मोईली ने राजस्थान के सियासी बवाल पर प्रतिक्रिया दी है.

वीरप्पा मोईली (Veerappa Moily) ने कहा है- वो (सचिन पायलट-Sachin Pilot) मुख्यमंत्री नहीं बन सके क्योंकि कांग्रेस हाईकमान द्वारा ऑब्जर्वर भेजे जाते हैं जो विधायकों से राय लेते हैं.ऐसा मध्य प्रदेश और राजस्थान दोनों ही जगह किया गया.

  • Share this:
नई दिल्ली. राजस्थान (Rajasthan) में मचे राजनीतिक बवाल को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और दिग्गज कांग्रेसी नेता वीरप्पा मोईली (M Veerappa Moily) ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है - 'सचिन पायलट सांसद बने और फिर यूपीए 2 में पार्टी ने उन्हें केंद्रीय मंत्री बनाया. वो (सचिन पायलट-Sachin Pilot) राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाए गए. वो मुख्यमंत्री नहीं बन सके क्योंकि कांग्रेस हाईकमान द्वारा ऑब्जर्वर भेजे जाते हैं जो विधायकों से राय लेते हैं. ऐसा मध्य प्रदेश और राजस्थान दोनों ही जगह किया गया.

'जिसको पार्टी छोड़कर जाना है वो जाएगा ही'
गौरतलब है कि बुधवार को ही कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ऐसा बयान दिया है, जिसके बाद ऐसा लग रहा मानो पायलट के लिए पार्टी ने अपने दरवाजे बंद कर लिए हों. NSUI के पदाधिकारियों के साथ बुधवार को हुई बैठक में राहुल गांधी ने कहा, "जिसको पार्टी छोड़कर जाना है वो जाएगा ही, आप लोगों को परेशान नहीं होना है, जब कोई जाता है तो आप जैसे लोगों के लिए रास्ते खुलते हैं."







'घर लौट जाइए'
इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी के ऊपर राजस्थान की अशोक गहलोत की सरकार को अस्थिर करने का आरोप लगाया. सुरजेवाला ने कहा कि पिछले 24 घंटे के घटनाक्रम ने साबित कर दिया है कि जनता के द्वारा चुनी गई सरकार को गिराने की बीजेपी की कोशिश फेल हो गई. बीजेपी अपनी साजिश में औंधे मुंह गिरी. उसे राजस्थान के जनमत के सामने हथियार डालने पड़े. इसी क्रम में सुरजेवाला ने कहा कि मीडिया के मार्फत पता चला कि सचिन पायलट बीजेपी में नहीं जाना चाहते हैं. अगर ऐसा है तो हमारा आग्रह है कि बीजेपी की हरियाणा सरकार की मेजबानी अस्वीकार कीजिए और अपने घर जयपुर लौट आइए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज