Assembly Banner 2021

सचिन वाजे ने कोर्ट में कहा- मुझे बलि का बकरा बनाया जा रहा, 3 अप्रैल तक बढ़ी कस्टडी

सचिन वाजे को गुरुवार को विशेष NIA कोर्ट में पेश किया गया. (फोटो: ANI/Twitter)

सचिन वाजे को गुरुवार को विशेष NIA कोर्ट में पेश किया गया. (फोटो: ANI/Twitter)

Mumbai Explosive Case: सचिन वाजे को मुंबई स्थित विशेष एनआईए कोर्ट (Special NIA Court) में गुरुवार को पेश किया गया. यहां उनकी पुलिस हिरासत को बढ़ा दिया गया है. वाजे ने कहा है कि उन्हें मामले में बलि का बकरा बनाया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 12:02 AM IST
  • Share this:
मुंबई. पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे (Sachin Waze) को गुरुवार को विशेष NIA कोर्ट में पेश किया गया. इस दौरान वाजे ने दावा किया है कि उन्हें मामले में बलि का बकरा बनाया जा रहा है. वाजे पर मुंबई में स्कॉर्पियो कार (Scorpio Vehicle) में मिले विस्फोटक और कार मालिक मनसुख हिरेन की मौत के मामले में शामिल होने के आरोप हैं. नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी गंभीर मामलों में वाजे की भूमिका की जांच कर रही है.

गुरुवार को विशेष एनआईए अदालत में पेश हुए वाजे ने कहा कि उन्हें बलि का बकरा बनाया जा रहा है. साथ ही उन्होंने मामले की जांच में अन्य लोगों के शामिल होने की बात भी कही है. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, अदालत में वाजे ने कहा कि वो केवल डेढ़ दिनों के लिए जांच अधिकारी था. साथ ही पूर्व पुलिस अधिकरी ने कहा है कि उन्होंने मामले की जांच वैसे ही थी, जैसी की जानी चाहिए थी.

Youtube Video




यह भी पढ़ें: सचिन वाजे मामले में बड़ा खुलासा- 5 स्टार होटल में 100 दिनों के लिए बुक था कमरा, जूलर ने दिए थे पैसे- सूत्र
3 अप्रैल तक बढ़ी कस्टडी
मुंबई स्थित NIA कोर्ट में पेश हुए वाजे की पुलिस कस्टडी को बढ़ा दिया गया है. अब वाजे 3 अप्रैल तक पुलिस कस्टडी में रहेंगे. इससे पहले उन्हें 25 मार्च तक के लिए NIA की कस्टडी में भेज दिया था. वाजे ने दावा किया है कि वो अकेले मामले की जांच नहीं कर रहे थे. इसमें क्राइम ब्रांच और मुंबई पुलिस की टीम भी शामिल थी.

सरकारी वकील ने कहा है कि NIA को वाजे के घर से 62 कारतूस बरामद हुए हैं. साथ ही उन्होंने जानकारी दी है कि 25 सरकारी कारतूसों में से केवल 5 का पता लगा है. उन्होंने कहा कि वाजे 25 के बारे में वाजे जानकारी नहीं दे रहे हैं. इसके अलावा उन्होंने वाजे पर कई सीसीटीवी कैमरा के डीवीआर को खत्म करने के आरोप भी लगाए हैं. इसके साथ ही वाजे पर जांच में सहयोग न करने के भी आरोप लगे हैं.

फर्जी आधार कार्ड दिखाकर बुक किया था कमरा
मामले की जांच के लिए NIA लगातार छापेमारी कार्रवाई कर रही है. घर के साथ-साथ टीम ने दक्षिण मुंबई के एक 5 सितारा होटल पर भी छापा मारा था. खुलासा हुआ है कि वाजे पहचान के रूप में यहां फर्जी आधार कार्ड दिखाकर रह रहा था. बताया जा रहा है कि होटल के बिल का भुगतान एक जूलर ने किया था. इसके अलावा भी एनआईए ने वाजे से जुड़े कई कागजातों की जांच की है. बंगले के पास बीती 25 फरवरी को कार बरामद हुई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज