भारत में किसी को बेरोजगारी के बारे में बात नहीं करनी चाहिए: सद्‌गुरु

सद्‌गुरु बेंगलुरु में आईआईएम-बी कैंपस में भारत में बेरोजगारी पर छात्रों के सवालों का जवाब दे रहे थे.

भाषा
Updated: September 16, 2018, 8:58 PM IST
भारत में किसी को बेरोजगारी के बारे में बात नहीं करनी चाहिए: सद्‌गुरु
ईशा फाउंडेशन के संस्थापक सद्‌गुरु जग्गी वासुदेव
भाषा
Updated: September 16, 2018, 8:58 PM IST
ईशा फाउंडेशन के संस्थापक सद्‌गुरु जग्गी वासुदेव ने रविवार को कहा कि लोग एक ही तरह के रोजगार को प्राथमिकता देते है और बेरोजगारी को लेकर हल्ला मचाना बेकार है. उन्होंने बेंगलुरु में आईआईएम-बी कैंपस में कहा, ‘इस देश में किसी को भी बेरोजगारी के बारे में बात नहीं करनी चाहिए क्योंकि भारत में ऐसा करने के लिए बहुत कुछ है. समस्या यह है कि लोग एक ही तरह की नौकरी की तलाश करते है जबकि कई अन्य प्रकार की नौकरियां है.’

सद्‌गुरु भारत में बेरोजगारी पर छात्रों के सवालों का जवाब दे रहे थे. उन्होंने कहा कि देश में कई समस्याएं हैं और लोगों को इन समस्याओं का हल खोजने के लिए अपने ज्ञान का इस्तेमाल करना चाहिए.

उन्होंने कहा,‘यदि आपके पास काम करने वाला मस्तिष्क और देखने वाली आंख हैं तो आपके चारों ओर सही काम करने के लिए हजारों चीजें हैं. यदि आप उद्यमी हैं, तो क्या दुनिया आपको रोक सकती है? जहां कोई समस्या है, वहां एक संभावना है.’
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर