अपना शहर चुनें

States

कश्मीर में गुपकार गठबंधन को झटका, सज्जाद लोन हुए अलग, भरोसा तोड़ने का आरोप

गुपकर अलायंस की मुख्य पार्टियां नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी है. (फाइल फोटो)
गुपकर अलायंस की मुख्य पार्टियां नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी है. (फाइल फोटो)

Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में अनुच्छेद-370 (Article 370) को बहाल करने के उद्देश्य से गठित सात पार्टियों के गुपकर गठबंधन (पीएजीडी) से पीपुल्स कांफ्रेंस अलग होने वाली पहली पार्टी है. इस गठबंधन में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और नेशनल कांफ्रेंस भी शामिल है.

  • Last Updated: January 19, 2021, 10:11 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. पीपुल्स कांफ्रेंस (Peoples Conference) के अध्यक्ष सज्जाद लोन (Sajjad Lone) ने सहयोगियों पर भरोसा तोड़ने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को घोषणा की कि उनकी पार्टी सात दलों के ‘गुपकर गठबंधन’ (People's Alliance of Gupkar Declaration) से अलग हो रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि गठबंधन के कुछ घटकों ने जिला विकास परिषद चुनाव (District Development Elections) में छद्म प्रत्याशी खड़े किए.

गुपकर गठबंधन के प्रमुख एवं नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला को कड़े शब्दों में लिखे पत्र में लोन ने कहा, ‘‘जनता जानती है कि राजनीतिक लाभ की लालच में अंधे होकर हमने एक दूसरे के खिलाफ प्रत्याशी उतारे.’’ उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में अनुच्छेद-370 (Article 370) को बहाल करने के उद्देश्य से गठित सात पार्टियों के गुपकर गठबंधन (पीएजीडी) से पीपुल्स कांफ्रेंस अलग होने वाली पहली पार्टी है. इस गठबंधन में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और नेशनल कांफ्रेंस भी शामिल है.

ये भी पढ़ें- शादीशुदा का दूसरे के साथ संबंध रखना है अपराध, लिव-इन रिलेशनशिप नहीं: हाईकोर्ट



गुपकर गठबंधन ने जीती थीं 112 सीटें
लोन ने लिखा, ‘‘यह तथ्य है कि गुपकर गठबंधन ने इस चुनाव में स्पष्ट रूप से सबसे अधिक सीटों पर जीत दर्ज की. हम आंकड़ो को छिपा नहीं सकते हैं और गुपकर गठबंधन द्वारा जीती गईं सीटों के अलावा, एक अन्य महत्वपूर्ण आंकड़ा पांच अगस्त (अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निष्क्रिय करने) के संदर्भ मतों की संख्या है जो गुपकर गठबंधन के खिलाफ है.’’ बाद में उन्होंने इस पत्र को मीडिया में भी साझा किया.

लोन ने पत्र में कहा, ‘‘ गुपकर गठबंधन के पक्ष और विपक्ष में हुए चुनिंदा मतदान का नतीजा बहुत खराब मत प्रतिशत रहा. यह वह मत प्रतिशत नहीं है जो जम्मू-कश्मीर की जनता पांच अगस्त के बाद हकदार थी.’’

ये भी पढ़ें- असम में जमी हुई मिलीं कोविशील्ड वैक्सीन की 1000 खुराकें, जांच के आदेश जारी

उल्लेखनीय है कि जिला विकास परिषद (डीडीसी) के चुनाव में गुपकर गठबंधन को 112 सीटें मिली हैं जिनमें से आठ सीटें लोन की पार्टी की है.

लोन ने कहा कि जहां एक ओर गुपकर गठबंधन आंकड़ों को देख रहा था वहीं जमीन पर जनता राजनीतिक खिलाड़ियों की गतिविधियों और इरादों को देख रही है. उन्होंने कहा, ‘‘वे हमारी गतिविधियों के चश्मदीद हैं. वे राजनीतिक रंगमंच के किरदार हैं जिसकी पटकथा हमने लिखी और हम मानते हैं कि लोग नहीं जानते कि हम किस लिए हैं. जनता जानती है कि हमने राजनीतिक लाभ के अंधे लालच की वजह से एक दूसरे के खिलाफ प्रत्याशी उतारे.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज