लाइव टीवी

राहुल के पद छोड़ने पर खुर्शीद का निशाना, बोले-हमारी सबसे बड़ी समस्या यही...

News18Hindi
Updated: October 8, 2019, 7:05 PM IST
राहुल के पद छोड़ने पर खुर्शीद का निशाना, बोले-हमारी सबसे बड़ी समस्या यही...
सलमान खुर्शीद ने कहा, राहुल गांधी ने चुनावोंं के बाद आवेश में आकर इस्तीफा दिया.

कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद (Salman Khurshid) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के पद छोड़ने पर इशारों इशारों में निशाना साधा है. वह इससे पहले भी पार्टी पर सवाल उठा चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2019, 7:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद (Salman Khurshid) ने अब पार्टी आलाकमान पर ही निशाना साधा है. उन्होंने कहा, हमारी सबसे बड़ी समस्या ये है कि हमारे नेता ने हमें छोड़ दिया. पार्टी इस समय ऐसी जगह पर संघर्ष कर रही है कि जिसे देखकर कहा जा सकता है कि वह आने वाले विधानसभा चुनावों में जीत हासिल नहीं कर सकती. उन्होंने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा, मई में हुए आम चुनावों में मिली करारी हार के बाद से अब तक पार्टी संघर्ष करती नजर आ रही है.

आम चुनावों में कांग्रेस ने जहां 542 सीटों में से 52 सीटें जीतीं, वहीं बीजेपी ने अपने दम पर 303 सीटें हासिल कर लीं. कांग्रेस के सामने इस समय सबसे बड़ी परीक्षा 21 अक्टूबर को होने जा रहे महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव हैं. इन चुनावों का परिणाम 24 अक्टूबर को आएगा. मई में कांग्रेस को मिली हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पद से इस्तीफा दे दिया. काफी मनाने के बाद भी वह पद पर नहीं लौटे, इसके बाद सोनिया गांधी पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बनीं.

आवेश में आकर राहुल ने दिया इस्तीफा
सलमान खुर्शीद ने कहा, मई में मिली हार के बाद राहुल गांधी ने आवेश में आकर इस्तीफा दे दिया. इसके बाद उनकी मां को पार्टी की कमान संभालनी पड़ी. हो सकती है कि अक्टूबर में चुनाव के बाद पार्टी को नया अध्यक्ष मिल जाए. पार्टी को मिली हार पर खुर्शीद ने कहा, 'हमने साथ बैठकर अपनी हार के कारणों को खोजने की कोशिश नहीं की. उन्होंने कहा, हमारी सबसे बड़ी समस्या ये है कि हमारे नेता ने हमें छोड़ दिया.' हालांकि खुर्शीद ने ये भी कहा, राहुल गांधी अब भी पार्टी की निष्ठा राहुल गांधी के साथ है.



खुर्शीद ने कहा, पार्टी के अंदर अभी एक खालीपन है. सोनिया गांधी ने अभी पार्टी का अध्यक्ष पद संभाला हुआ है, लेकिन उन्होंने ये व्यवस्था अस्थायी तौर पर संभाली है. काश ऐसा न होता.

यह भी पढ़ें...
 फ्रांस ने भारत को पहला राफेल विमान सौंपा, रक्षा मंत्री बोले- ये वायुसेना के लिए ऐतिहासिक दिन

जम्‍मू-कश्‍मीर: टीचर्स स्‍कूलों की जगह घरों में स्‍पेशल क्‍लास लगाकर पूरा करा रहे हैं सिलेबस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2019, 5:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर