सिर्फ विरोध के लिए उद्धव सरकार के फैसलों का विरोध कर रही बीजेपी: संजय राउत

शिवसेना नेता संजय राऊत ने सामना में लिखे लेख में बीजेपी पर निशाना साधा. फाइल फोटो
शिवसेना नेता संजय राऊत ने सामना में लिखे लेख में बीजेपी पर निशाना साधा. फाइल फोटो

शिवसेना नेता संजय राऊत (Sanjay Raut) ने सामना में लिखे एक लेख में कहा कि जो लोग कोविड-19 महामारी (Covid-19) के खिलाफ लड़ाई को हिंदुत्व से जोड़ते हैं, वे जनता के दुश्मन हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2020, 4:41 PM IST
  • Share this:
मुंबई. शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने रविवार को दावा किया कि महाराष्ट्र में विपक्षी बीजेपी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के नेतृत्व वाली महा विकास आघाड़ी सरकार (Maharashtra Vikas Aghadi Government) के हर फैसले का सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रही है. शिवसेना (Shivsena) के मुखपत्र ‘‘सामना’’ के अपने साप्ताहिक स्तंभ ‘‘रोखठोक’’ में राज्य में पूजा स्थलों को खोले जाने को लेकर हुए विवाद का जिक्र करते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी (Covid-19) के खिलाफ लड़ाई को जो लोग ‘‘हिन्दुत्व’’ से जोड़ते हैं, वे जनता के ‘‘दुश्मन’’ हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि राजधानी दिल्ली में ढील देने की प्रक्रिया इतनी जल्दी शुरू कर दी गई, जिसकी वजह से आज वहां मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है.

राष्ट्रीय राजधानी के मौजूदा संकट को उन्होंने दिल्ली सरकार का ‘‘अति-आत्मविश्वास’’ करार दिया और कहा कि वहां मामले इतने बढ़ रहे हैं कि एक और लॉकडाउन लागू करने की स्थिति आ गई है.



शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता राउत ने कहा, ‘‘बाजारों, सार्वजनिक स्थलों और पूजा स्थलों को फिर से बंद किया जाएगा. ऐसा क्यों हुआ, महाराष्ट्र के बीजेपी (BJP) नेताओं को सोचना चाहिए? ...वे महाराष्ट्र सरकार के हर फैसले का विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं.’’
राउत ने कहा कि बीजेपी नेताओं ने तो छठ पूजा की अनुमति प्रदान करने की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन तक किया. उन्होंने कहा, ‘‘आपने भले ही बिहार चुनाव जीत लिया लेकिन मुंबई में रहने वाली बिहार की जनता को विवादों में घसीटने की कोई जरूरत नहीं है. लाखों की संख्या में लोग समुद्र किनारे जुटते हैं और महामारी के इस संक्रमण के दौर में यह अवैध है.’’

ये भी पढ़ेंः राज्यपाल कोश्यारी से मांग- नमाज पढ़ने खोली जाए राजभवन की मस्जिद

उन्होंने कहा कि गुजरात, हरियाणा और मध्य प्रदेश की बीजेपी सरकारों ने भी सार्वजनिक स्थलों पर छठ पूजा की अनुमति नहीं दी जबकि महाराष्ट्र में वह इसकी अनुमति मांग रही थी.

ये भी पढ़ेंः मुंबई में दिसंबर तक नहीं चलेगी लोकल ट्रेन, 3 से 4 हफ्ते के लिए टाला गया फैसला

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘भले ही लोगों की जान जाए, बीजेपी राज्य सरकार के हर कदम का विरोध करना चाहती है.’’ राउत ने कहा कि बीजेपी यदि राज्य में एक और लॉकडाउन चाहती है तो ‘‘यह राज्य का दुर्भाग्य है.’’

उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग हिन्दुत्व के विचारक वी डी सावरकर को ‘‘भारत रत्न’’ नहीं दे सके, वे दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय का नाम बदलने की योजना बना रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘यह हास्यास्पद है...दूसरों के द्वारा स्थापित संस्थानों का नाम बदलने की जगह अपनी विरासत तैयार करो. देश पिछले छह सालों में नहीं बना है.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज