लाइव टीवी
Elec-widget

गोवा में भी महाराष्ट्र जैसा BJP विरोधी मोर्चा बनाने की कोशिश में संजय राउत, स्थानीय पार्टियों से की बातचीत

भाषा
Updated: November 29, 2019, 8:29 PM IST
गोवा में भी महाराष्ट्र जैसा BJP विरोधी मोर्चा बनाने की कोशिश में संजय राउत, स्थानीय पार्टियों से की बातचीत
शिवसेना नेता संजय राउत ने गोवा में MGP और GFP से BJP विरोधी मोर्चा बनाने के लिए बात की है (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र गोमंतक पार्टी (MGP) के नेता सुदीन धवलीकर (Sudin Dhavalikar) ने कहा है, "गोवा (Goa) में 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस (Congress), एमजीपी (MGP), गोवा फॉरवर्ड पार्टी (GFP), शिवसेना (Shiv Sena) और राकांपा (NCP) का मोर्चा बनाया जा सकता है.’’

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस (Shiv Sena-NCP-Congress) की सरकार बनने के एक दिन बाद शिवसेना के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा शासित गोवा (Goa) में जल्द ही ‘‘बड़ा आंदोलन’’ होगा.

संजय राउत ने यहां संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने गोवा फॉरवर्ड पार्टी (GFP) के नेता विजय सरदेसाई और महाराष्ट्र गोमंतक पार्टी (MGP) के नेता सुदीन धवलीकर (Sudin Dhavalikar) से इस बारे में बात की थी.

धवलीकर ने स्वीकारा, गोवा में सरकार बनाने को विपक्ष के पास जरूरी संख्या बल नहीं
एमजीपी नेता धवलीकर ने स्वीकार किया कि अभी विपक्ष के पास संख्या बल नहीं है कि वह गोवा में वैकल्पिक सरकार बना सके. उन्होंने 2022 के विधानसभा चुनावों में भाजपा का मुकाबला करने के लिए पांच दलों- कांग्रेस, MGP, गोवा फॉरवर्ड पार्टी, शिवसेना और राकांपा के साथ मिलकर मोर्चा बनाने की वकालत की.

विजय सरदेसाई (Vijai Sardesai) ने शुक्रवार की सुबह मुंबई में राउत से मुलाकात की. शिवसेना की तरह GFP और MGP भी पहले भाजपा (BJP) की सहयोगी रह चुकी हैं.

राउत ने कहा, 'गोवा में सरदेसाई के साथ बन रहा है मोर्चा'
शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा, ‘‘निश्चित रूप से भूकंप आएगा. सरदेसाई यहां अपने सभी विधायकों के साथ आए हैं. भाजपा सरकार का समर्थन करने वाले कुछ अन्य विधायक भी हमारे संपर्क में हैं.’’
Loading...

राउत ने कहा, ‘‘मैंने धवलीकर से बात की. आपको जल्द गोवा (Goa) में बड़ा आंदोलन दिखेगा जहां अनैतिक आधारों पर सरकार का गठन किया गया है. महाराष्ट्र के बाद गोवा की बारी है, पूरे देश में बड़ा आंदोलन होगा. हम गैर भाजपा मोर्चा का गठन करेंगे.’’

राउत ने कहा, ‘‘गोवा में सरदेसाई के साथ एक मोर्चा बन रहा है... जैसा महाराष्ट्र (Maharashtra) में बना. उन्होंने हम पर ऊंगली उठाई कि हम कांग्रेस और राकांपा के साथ चले गए. लेकिन गोवा में उन्होंने (भाजपा ने) उन लोगों के साथ सरकार बनाई जिन पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं और गोवा के लोगों को यह पसंद नहीं है. इसलिए पूर्व उपमुख्यमंत्री सरदेसाई हमारे साथ आए हैं.’’

भाजपा के मुकाबले को मोर्चा बनाने के लिए सकारात्मक सरदेसाई और धवलीकर
सरदेसाई और धवलीकर ने अलग- अलग बातचीत में कहा कि गोवा में भाजपा का मुकाबला करने के लिए मोर्चा बनाने को लेकर वे सकारात्मक हैं. एमजीपी नेता ने कहा, ‘‘गोवा में 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस (Congress), एमजीपी, गोवा फॉरवर्ड पार्टी, शिवसेना और राकांपा का मोर्चा बनाया जा सकता है.’’

साथ ही उन्होंने कहा कि वर्तमान में इस तरह के गठबंधन से गोवा में भाजपा सरकार (BJP Government) को कोई खतरा नहीं हो सकता है क्योंकि विपक्ष के पास संख्या बल नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘वैकल्पिक सरकार तब तक नहीं बन सकती जब तक कि विधानसभा अध्यक्ष भाजपा में अवैध रूप से शामिल सदस्यों को अयोग्य नहीं करार देते.’’

यह भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल: उपचुनावों के नतीजे के बाद BJP नेता ने उठाए EVM पर सवाल, फिर पलटे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 8:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...