वीरेंद्र सहवाग की वजह से रोहित दोहरा शतक लगा सके, उन्होंने सबकी सोच बदल दी: सकलैन मुश्ताक

सकलैन मुश्ताक पाक के बड़े स्पिनरों में से एक हैं. (Saqlain mushtaq Twitter)

सकलैन मुश्ताक पाक के बड़े स्पिनरों में से एक हैं. (Saqlain mushtaq Twitter)

पाकिस्तान के पूर्व ऑफ स्पिनर सकलैन मुश्ताक (Saqlain Mushtaq) ने भारतीय क्रिकेट में बदलाव के लिए वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) को अहम माना है. सहवाग ने पाकिस्तान के खिलाफ पाक में तिहरा शतक लगाया था.

  • Share this:

नई दिल्ली. पाकिस्तान के पूर्व ऑफ स्पिनर सकलैन मुश्ताक ने भारत के पूर्व  ओपनर वीरेंद्र सहवाग को जमकर सराहा है. उन्होंने कहा कि सहवाग ने अपनी बल्लेबाजी स्टाइल से भारतीय बल्लेबाजी को पूरी तरह से बदल कर रख गया. इसका फायदा दूसरे बल्लेबाजों काे मिला. वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान के खिलाफ उसी के घर में 309 रन की बड़ी पारी खेली थी. इसके बाद उन्हें मुल्तान का सुल्मान भी कहा जाने लगा था. उस मैच में शोएब अख्तर जैसे दिग्गज गेंदबाज भी खेल रहे थे.

पाकिस्तान के पूर्व ऑफ स्पिनर सकलैन मुश्ताक ने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘पूरे वर्ल्ड पर सहवाग का जो प्रभाव रहा है, वह जिस शैली में खेलते थे, जिस तरह की ब्रांड की क्रिकेट वह खेलते थे. इससे भारत के कई खिलाड़ियों को फायदा हुआ. जिस तरह की बल्लेबाजी उन्होंने पूरे विश्व को दिखाई थी. उसने भारतीय क्रिकेट और और क्रिकेटरों की मानसिकता को बदल दिया.’

सहवाग ने दोहरा शतक लगाकर रास्ता दिखाया

सकलैन ने सहवाग और रोहित शर्मा की तुलना भी की है. सकलैन मुश्ताक का मानना है कि रोहित के रिकॉर्ड बेशक सहवाग से थोड़े बेहतर हैं, लेकिन सहवाग के कारण ही ऐसा हो सका. उन्होंने जिस तरह की क्रिकेट खेली, बहुत कम लोग ही उस तरह की क्रिकेट खेल पाते हैं. उन्होंने कहा, ‘सहवाग ने बेंच मार्क सेट किए और अपने आत्मविश्वास से रास्ता दिखाया. सहवाग ने वनडे में दोहरा शतक जमाया इसलिए खिलाड़ियों को लगा कि यह किया जा सकता है. जैसे रोहित शर्मा. रोहित ने सहवाग को देखकर काफी कुछ सीखा होगा.’
विव रिचर्डस और जहीर अब्बास भी ऐसा ही करते थे

सकलैन मुश्ताक ने कहा है कि वीरेंद्र सहवाग से पहले कुछ ही बल्लेबाज थे, जो इस तरह की बल्लेबाजी किया करते थे. पूर्व ऑफ स्पिनर ने कहा कि सहवाग अपने लिए खेले, देश के लिए खेले और उनके बाद आने वाले बल्लेबाजों की सोच बदल दी. उनसे पहले एक या दो बल्लेबाज जैसे सर विवियन रिचर्डस वनडे में इस तरह की बल्लेबाजी किया करते थे, साथ ही जहीर अब्बास भी. उन्होंने विश्व क्रिकेट पर राज किया. सहवाग ने विश्व क्रिकेट पर अपना दबदबा दिखाया.

सहवाग दो तिहरा शतक लगाने वाले इकलौते भारतीय



वीरेंद्र सहवाग टेस्ट में भी बतौर ओपनर आक्रामक बल्लेबाजी करते थे. वे भारत की ओर से टेस्ट में दो तिहरा शतक लगाने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं. उन्होंने 104 टेस्ट में 49 की औसत से 8586 रन बनाए. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 82 का रहा है. उन्होंने 23 शतक और 32 अर्धशतक भी जड़े. वनडे में सहवाग ने 251 मैच में 8273 रन जबकि 19 टी20 मैच में 394 रन बनाए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज